बेसन बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें ? | Besan Manufacturing Business in Hindi 2022

besan manufacturing business

जब आप किसी होटल पर जाते हैं और बेसन के लड्डू या पकौड़ी खाते हैं या घर पर बेसन का पैकेट लेकर आते हैं तो आप भी सोंचते होंगे कि Besan Manufacturing Business में कितना ज्यादा प्रॉफिट होगा। आप के मन भी कई सारे सवाल आते होंगे जैसे How to start gram flour manufacturing business?, Besan plant kaise lagaye?, Chana besan ka business kaise shuru kare? या इस बिजनेस को शुरू करने पर कितना investment आएगा, कितना प्रॉफिट होगा, कौन-कौन सी मशीन खरीदनी पड़ेगी आदि।

इस लेख को पढने के बाद आपके मन के अन्दर जितने भी सवाल होंगे सभी सवालों के जवाब मिल जायेंगे। बेसन की डिमांड हर घर और सभी होटल, रेस्टोरेंट आदि में किया जाता है। बेसन अर्थात Gram flour के द्वारा पकौड़ी, ब्रेड पकौड़ा, नमकीन, बेसन के लड्डू, सभी तरह के Snacks Item आदि तैयार किये जाते हैं। कुल दलहनी फसलों का लगभग 40% दलहन के फसल का उत्पादन हमारे भारत देश में किया जाता है। चने की दाल को पूरे विश्व में तीसरा स्थान मिला हुआ है।

चने के द्वारा निर्मित किये गए बेसन की डिमांड साल भर बनी रहती है। भारत में इसी डिमांड को देखते हुए हम आपको बेसन के उत्पादन का बिजनेस कैसे करें ? के बारे में बताने वाले हैं। तो आइये दोस्तों जानते हैं कि किस तरीके से आप भी बेसन का व्यापार शुरू कर सकते हैं। इसी तरह से आप आटा चक्की का बिजनेस शुरू कर सकते हैं।

बेसन क्या है ? (What is Gram Flour?)

चने को पीसकर जो प्रोडक्ट तैयार होता है जिससे विभिन्न तरह के नमकीन, पकौड़े, बेसन के लड्डू, बेसन के पेडे आदि बनाये जाते हैं उसे हम Gram Flour अर्थात बेसन कहते हैं। बेसन का रंग पीला होता है इसे हम चने का आटा भी कहते हैं। भारत के अलावा कई अन्य देशों में भी बेसन का इस्तेमाल किया जाता है। भारत के कई राज्यों जैसे मध्य प्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र, गुजरात, आन्ध्र प्रदेश, कर्नाटक,उत्तरप्रदेश आदि में चने का उत्पादन भारी मात्रा में किया जाता है। अगर एक लाइन में कहें तो चना दाल के पीसे हुए आटे को ही बेसन कहा जाता है।

बेसन की बाजार में मांग (Market Potential)

रोड पर ठेले लगाने वाले से लेकर फाइव स्टार होटल तक बेसन की मांग है। भारत में दिन-प्रतिदिन जनसँख्या बढ़ रही है जिससे खाने वालों की कमी नहीं है। बेसन से कई तरह के पकवान बनाये जाते हैं जिसका उपयोग रेस्तरां, भोजनालय, क्लब, हॉस्टल और कैंटीन, शादी-विवाह, birth day पार्टी, मुंडन व अन्य प्रकार के कार्यक्रमों में भी बेसन की काफी ज्यादा मांग रहती है। इसलिए बाजार में बेसन की काफी उपयोगिता है इन सभी बातों से ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि यदि आप Besan making business के बारे में सोंच रहे हैं तो Gram Flour Manufacturing Plant आपके लिए काफी लाभदायक हो सकता है।

योजना बनायें (Besan Manufacturing Business Plan)

besan manufacturing business
besan manufacturing business plan

आपने देखा होगा बाजार में कई बड़ी-बड़ी कंपनियां पहले से ही बेसन बनाने का प्लांट लगाये हुए हैं और बृहद पैमाने पर वो कंपनियां चने के बेसन का उत्पादन कर रही हैं जिससे आज के समय में उनकी अच्छी-खासी पकड़ हो गयी है इसलिए सबसे पहले आपको बेसन का प्लांट लगाने से पहले योजना बनाना पड़ेगा जैसे जो कंपनियां पहले से ही अपने उत्पाद को बेंच रही हैं वो क्या Marketing Strategy अपना रही है उस पर आपको शोध करना पड़ेगा। आप इस बिजनेस में कितना पूँजी लगाना चाहते हैं छोटे स्तर पर शुरू करना चाहते हैं या बड़े स्तर पर शुरू करना चाहते हैं।

साथ ही बिजली, पानी, परिवहन, विपणन व्यय तथा अन्य विविध खर्चों पर भी आपको योजना बनाने की आवश्यकता पड़ेगी जिससे आपको बिजनेस स्टार्ट करने में काफी मदद मिलेगी। शुरू में आपको अपने स्थानीय मार्किट में ही आपको अपना माल बेंचना पड़ेगा। स्थानीय मार्किट में होटल, ढाबा, भोजनालय, snacks केन्द्रों आदि पर संपर्क करना पड़ेगा तभी आप Besan Manufacturing Business का सफल संचालन कर सकते हैं।

जगह की आवश्यकता (Land for Besan Manufacturing Business)

दोस्तों यदि आप Mini Besan Plant लगाते हैं तो आपको 300 – 500 स्क्वायर फीट जगह की आवश्यकता पड़ेगी लेकिन यदि आप बड़े पैमाने पर बेसन प्लांट की स्थापना करना चाहते हैं तो आपको लगभग 2000 स्क्वायर फीट जगह की आवश्यकता होगी जिसमे कच्चा माल और तैयार माल रखने का गोदाम भी होगा। ध्यान रहे आपको बेसन प्लांट ऐसी जगह लगाना चाहिए जहाँ पर यातायात की सुविधा हो, बिजली, पानी और आने-जाने के लिए सड़कें हों हो सके तो बेसन मिल शहर के किसी नजदीक एरिया में ही स्थापित करें।

Read it Also- नमकीन बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें ?

कच्चा माल एवं मशीनरी (Besan Manufacturing Machine)

बेसन बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए चने की आवश्यकता होगी। चना ही बेसन बनाने के लिए प्रयोग में लाया जाता है। चने का बेसन बनाने के लिए निम्न प्रकार के मशीनों की आवश्यकता होगी-

  • लेबोरेटरी मशीन (Laboratory Machine)
  • पलवीराइजेर मशीन (Pulverizer Machine)
  • पैकिंग मशीन (Packing Machine)
  • सोंखने वाली मशीन (Absorption Machine)
  • भार मापने वाली मशीन (Weighing Machine)
  • विभिन्न प्रकार के बर्तन
  • पैक करने के लिए प्रिंटेड पाउच

आप चाहें तो चने की दाल खरीद कर भी बेसन बना सकते हैं इससे आपको चने को दो भाग में करने वाले मशीन यानी Splitting Machine और छिलका निकालने वाली मशीन यानी Peel Dispenser की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। इससे आपका investment भी थोडा कम आएगा मार्किट में बहुत से लोग जो बेसन प्लांट लगाये हुए हैं वो सीधे चने की दाल ही खरीदते हैं और बेसन की manufacturing करते हैं।

इसे भी पढ़िए – मसाला बनाने का उद्योग कैसे शुरू करें ?

बेसन बनाने की प्रक्रिया (Besan Manufacturing Process)

बेसन बनाने की प्रक्रिया बेहद ही आसान है। सबसे पहले चना दाल में से धूल मिटटी को झन्ने में डाल कर अलग किया जाता है इसके बाद नमी दूर करने के लिए ब्लोअर से से चने को हवा दी जाती है। इसके बाद चना दाल को pulverizer मशीन में डाल कर पीसा जाता है पीसने के बाद तौल मशीन से बेसन को पाउच में भरने के बाद तौल की जाती है इसके बाद सीलिंग मशीन से पाउच को सील किया जाता है और बेसन बाजार में बिकने के लिए तैयार हो जाता है।

लागत (Besan Manufacturing Plant Project Report)

दोस्तों अगर आप सेमी आटोमेटिक मशीन लेकर इस व्यवसाय को शुरू करते हैं तो 5 से 10 लाख रूपये की investment की आवश्यकता होगी और यदि आप fully automatic machine से इस व्यवसाय को शुरू करते हैं तो 40 से 50 लाख रूपये की आवश्यकता होगी। इसके अलावा Besan Manufacturing Business की शुरुआत mini besan plant से भी कर सकते हैं जिसमे 1 से 2 लाख का investment आएगा। अधिक जानकारी के लिए आप Indiamart.com की वेबसाइट पर भी जाकर मशीन की जानकारी ले सकते हैं।

लाइसेंस (License for Besan Manufacturing Business in Hindi)

besan manufacturing business
besan manufacturing business registration

Besan Manufacturing Business शुरू करने के लिए कुछ आवश्यक लाइसेंस की जरुरत होगी जो निम्न प्रकार है-

मुनाफा (Besan Business Profit)

बेसन के व्यवसाय में यदि प्रति किलो के पीछे 10 रूपये का मुनाफा प्राप्त होता है और यदि आप एक दिन में 500 kg की सेल करते हैं तो आप इस बिजनेस से डेढ़ लाख रूपये प्रति महीना कमा सकते हैं। इसके अलावा बिक्री बढ़ाने के लिए आप जगह-जगह पोस्टर बैनर लगवा सकते हैं, लोकल एरिया में अच्छी तरह से प्रचार प्रसार कर सकते हैं, कस्टमर से अच्छा रिलेशन बना कर रखें जिससे आपकी सेल और अधिक हो सकती है।

निष्कर्ष

Gram Flour Manufacturing Business शुरू करने से पहले पूरी जानकारी लेना आवश्यक है सबसे पहले अपने लोकल मार्किट में जाएँ और पता करें कि किस-किस ब्राण्ड का बेसन बिक रहा है साथ ही ये भी पता करें कि पैक किये हुए बेसन के अलावा खुला हुआ बेसन भी बिकता है या नहीं। यदि बिक रहा है तो आप अपने ग्राहक को खुला हुआ बेसन भी दे सकते हैं इसके अलावा ध्यान रहे कि जब भी Besan Manufacturing Business स्टार्ट करें तो पूरी योजना से शुरूआत करें। उम्मीद करता हूँ कि ये लेख आपको पसंद आया होगा अगर ये लेख अच्छा लगा हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद।

सम्बंधित लेख –

About Amit Kumar

Hello Friends! मेरा नाम अमित कुमार है, मैं एक फुल टाइम Youtuber और Blogger हूँ. मेरा मकसद उन लोगों को आगे बढाने का है जो लोग बिज़नस करके आगे बढ़ना चाहते हैं लेकिन कुछ लोगों को सही जानकारी न होने के कारण आगे नहीं बढ़ पाते हैं. इस ब्लॉग पर आपको नई-नई बिज़नस Read More


Leave a Comment

Your email address will not be published.