डेयरी फार्म कैसे खोलें ? Dairy farming in india in hindi 2022

dairy farm

हमारे भारत की आधी से अधिक जनसंख्या गाँव में रहती है। गाँव में रहने वाले लोगों का मुख्य व्यवसाय ज्यादातर खेती होता है। खेती के साथ पशुपालन खेती का एक अनिवार्य अंग बन गया है। Dairy Farm से दूध के सिवाय गोबर प्राप्त होता है जो देशी खाद के रूप में खेतो में प्रयोग किया जाता है, जिससे खेतो की उपजाऊ शक्ति बढ़ जाती है। इस प्रकार पशु खेती के लिए तो लाभदायक हैं ही साथ में लोगों के एक्स्ट्रा इनकम का स्त्रोत भी है।

आजकल लोग ज्यादा से ज्यादा दुधारू पशु पालते हैं और अपनी आवश्यकता से अधिक दूध को बेंच देते है जिससे उन्हें अतिरिक्त आमदनी हो जाती है। इसी को Dairy Farm Business कहा जाता है।

ऐसे में अगर गाँव में ही Dairy Farming खोला जाय तो यह बहुत मुनाफे का बिज़नस होगा, क्योंकि इससे गाँव वालों को अपने ही गाँव में दूध बेंचने का market मिल जाता है जिससे उनका समय भी बच जाता है और आप को भी गाँव-गाँव जाकर दूध इकठ्ठा करने नहीं जाना पड़ता है, जिससे लागत में कमी आती है तथा मुनाफा बढ़ता है। इस प्रकार आप अपने गाँव में अपने घर पर डेरी प्लांट लगाकर अच्छी कमाई कर सकते हो।

दोस्तों आज के इस पोस्ट में मैं Dairy Farming business plan की पूरी जानकारी दूंगा ताकि आप इसे पढ़कर डेरी मिल्क प्लांट लगाकर सफलतापूर्वक अपना बिज़नस कर सकें।

Dairy Farm के लिए सही विकल्प का चुनाव

सबसे पहले आपको यह चुनना होगा कि आप एक दूध संग्रहण केंद्र खोलना चाहते हैं या स्वयं गायें भैंसे पालकर दूध उत्पादन करना चाहते हैं। यदि दूध संग्रहण केंद्र खोलना चाहते है तो आपको देखना होगा की आप के गाँव में या आस पास के गाँव में दूध की प्रयाप्त उपलब्धता है या नहीं, अगर है तो इस बिज़नस को 40 से 50 हजार की लागत से शुरू कर सकते हैं परन्तु दूध उत्पादन का विकल्प चुनना चाहते हैं तोअपनी सामर्थ्य के अनुसार Dairy Farming के लिए निम्नलिखित विकल्पों में से कोई एक चुन सकते हैं-

  1. यदि आप बड़े स्तर पर Dairy Business करना चाहते हैं तो इसके लिए कम से कम 50 दुधारू पशु (कम से कम 30 भैंसे और 20 गायें)रखने होंगे| पशु अच्छे गुणवत्ता के होने चाहिये जिनकी दुग्ध उत्पादन क्षमता प्रतिदिन 8-10 लीटर होनी चाहिये।
  2. इसके अलावा अगर आप के पास पूँजी का अभाव है और कम लागत से डेरी फार्म शुरू करना चाहते हैं आप कम से कम 5 दुधारू पशु से इसकी शुरुआत कर सकते हैं।

Dairy farming business की शुरुआत आप दो तरीके से कर सकते हैं। पहला गाय और भैंस दोनों को पालकर जिसे हम डेरी farming बिज़नस कहते हैं और दूसरा केवल गाय को पालकर जिसे हम Cow farming in india in hindi कह सकते हैं।

डेयरी उद्योग के लिए लागत (Dairy farming project)

DAIRY FARM HOUSE बड़े स्तर पर लगाने के लिए आपको कम से कम 50 दुधारू पशु रखने पड़ेंगे। जिनको खरीदने एवं पशुबाड़ा, नाद, भूसा रखने का स्टोररूम आदि बनवाने में तथा दूध रखने का बर्तन(कंटेनर या बम्बी), चारे की व्यवस्था तथा अन्य जरुरी सामान खरीदने पर लगभग 15 से 20 लाख रुपये की लागत आती है। पशुओं को खिलाने एवं दूध दुहने हेतु कम से कम 5-6 मेहनती श्रमिक भी रखने पड़ेंगे। प्रतिदिन दूध को market तक पहुंचाने के लिए आपके पास कोई साधन होना चाहिये इसे आप हायर भी कर सकते है जिससे आप की लागत घटेगी।

सरकारी सहायता एवं अनुदान (Dairy farming in India subsidy)

यदि आप बड़े स्तर पर dairy form खोलना चाहते हैं और आपके पास पूँजी का अभाव है तो आपको केंद्र सरकार के डेरी उद्दमिता विकास योजना के अंतर्गत लोन भी मिल जायेगा। केंद्र सरकार देश में दुग्ध उत्पादन को बढ़ाने के के लिए प्रोत्साहन के तौर पर ही DEDS कार्यक्रम चला रही है जिसमे आपको कुल लागत का 25 से 33% तक का अनुदान मिलता है। इसके अलावा आप प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत भी लोन ले सकते हैं।

दुधारू पशु खरीदते समय सावधानियां

गायों और भैंसों की बहुत सी नस्लें पायी जाती हैं परन्तु दुग्ध उत्पादन (milk business) के लिए हमें ऐसी गायें या भैंसे चाहिये जिनका प्रतिदिन का दूध उत्पादन औसत सबसे अधिक हो ऐसे में मुर्रा, भदावरी नस्ल की भैंसे तथा जर्सी,साहीवाल, होल्स्टीन फ्रीजियन एवं गिरी नस्ल की गायें ही खरीदनी चाहिये और खरीदने से पहले इनके स्वास्थ्य की जांच करा लेनी चाहिये ताकि किसी बीमारी से ग्रसित ना हों।

स्थान का चयन एवं निर्माण कार्य

यदि आप दूध संग्रहण केंद्र खोलना चाहते हैं तो उसमे ज्यादा जगह की जरुरत नहीं होती है इसे आप अपने घर पर ही एक कमरे से चला सकते हैं। परन्तु बड़े स्तर पर Dairy Farming के लिए आपको ज्यादा जगह की जरुरत पड़ेगी जिसमे कम से कम 50 पशुओं के रहने, खाने के लिए पक्की नांद की व्यवस्था, भूसा रखने की जगह आदि के लिए प्रयाप्त जगह की आवश्यकता होती है। इसके लिए कम से कम 1500 से 2000 वर्गफुट जगह की आवश्यकता होगी। चुनी गयी जगह हवादार होनी चाहिये एवं पशु बाड़े में साफ-सफाई का ध्यान रखा जाना चाहिये। आपके Dairy Farm House तक यातायात साधन आने जाने की सुविधा जरुर होनी चाहिये ताकि दूध को market तक पहुचाने में आसानी रहे।

पशुओं के रहने हेतु शेड तैयार करवाया जाता है। यह ज्यादातर पुआल का बनवाया जाता है क्योंकि ये गर्मी ठंडी को आसानी से रोक लेता है। जहाँ पशुओं को दिन में बांधने की व्यवस्था हो वहां पर पेड़ छायादार पेड़ लगा देने चाहिये। इसके सिवाय आपके पास कम से कम एक एकड़ खेत होना जरुरी है जिसमे हरे चारे की व्यवस्था हो सके।

दुधारू पशुओं को दिया जाने वाला चारा

दुधारू पशुओं की दुग्ध उत्पादन क्षमता इस बात पर निर्भर करती है की प्रतिदिन उनको दिया जाने वाला चारा किस प्रकार का है। उनके चारे में भूसे के साथ-साथ हरा चारा वा दाना-भूसी का भी नियमित प्रबंध होना चाहिये तभी वे अच्छा दुग्ध उत्पादन कर सकेंगी। चारे में मुख्य रूप से गेंहू का भूसा, धान की पुआल के साथ हरा चारा जैसे बरसीम, ज्वार, बाजरा,लोबिया,हरी घास आदि दिया जाना चाहिये। इसके सिवाय नियमित रूप से दाना के रूप में मक्का, गेंहू, चावल का चोकर चने की भूसी, सरसों की खली आदि भी दिया जाना चाहिये जिससे दूध की उत्पादन क्षमता बहुत बढ़ जाती है। चारे की जानकारी आप indiamart.com की वेबसाइट से ले सकते हैं।

पशुओं की देखभाल

आपको अपने दुधारू पशुओं की बहुत ही सावधानी पूर्वक देखभाल करनी चाहिये। समय समय पर डॉक्टर से परामर्श लेते रहना चाहिये तथा आवश्यक टीके भी लगवाने चाहिये।

लाइसेंस

चूंकि दूध एक पेय पदार्थ है अतः आपको दूध की बिक्री करने से पहले FSSAI से आवश्यक लाइसेंस लेना होता है तथा शुद्धता का मानक पूरा करना होता है तब आपको एक प्रमाणपत्र मिल जाता है तथा आप जिस शहर में दूध की सप्लाई करते हैं वहां से ट्रेडिंग लाइसेंस प्राप्त करना होगा लाइसेंस प्राप्त करने के बाद आप Dairy Farm सुचारू रूप से चला सकते हैं।

डेरी फार्म हाउस से होने वाली कमाई

यदि आप के DAIRY FARM HOUSE में 50 दुधारू पशु हैं जिसमे से सिर्फ 25 ही प्रतिदिन दूध देते हैं तो 10 लीटर दूध प्रति पशु के औसत से एक दिन का कुल उत्पादन 250 लीटर होता है जिसकी market में कीमत लगभग 10000 रुपये होती है यदि इसमें से 5000 रुपये लागत घटा दी जाए तो शुद्ध मुनाफा 5000 रुपये प्रतिदिन का तथा महीने का डेढ़ लाख रुपये शुद्ध मुनाफा कमाया जा सकता है।

दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आपको इस पोस्ट में Dairy Farm से सम्बंधित सारी जानकारी मिल गई होगी अगर आप इससे सम्बंधित कोई और जानकारी लेना चाहते हैं तो आप कमेंट करके पूंछ सकते हैं। पोस्ट पढने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

इसे भी पढ़े-
PM MUDRA YOJANA | मुद्रा योजना के अंतर्गत 20 लाख तक का लोन प्राप्त करें
बेकरी उद्योग की पूरी जानकारी
HOW TO EARN MONEY FROM AMAZON AFFILIATE PROGRAM | Amazon से पैसे कैसे कमायें
HOW TO START JUICE CORNER BUSINESS 2020
मुरमुरा बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें?

About Ved Prakash Yadav


Leave a Comment

Your email address will not be published.