Furniture Making Business in Hindi | 2022 में शुरू कीजिये फर्नीचर उद्योग

Furniture Making Business

Furniture Making Business आज के समय का एक बहुत तेजी  से उभरता हुआ बिज़नस है जैसे जैसे लोगों की आय बढ़ रही है लोग भौतिक सुख सुविधाओं की तरफ आकर्षित हो रहे हैं और आज कल सभी लोग अपने घरों में कुर्सी, मेज, बेड, सोफासेट, अलमारी, डिज़ाइनर खिड़की दरवाजे आदि लगवाना चाहते हैं जिससे फर्नीचर उद्योग को बहुत बल मिला है। अब सभी लोग प्लास्टिक के सामान के बजाय लकड़ी के सामान खरीदना पसंद करने लगे हैं क्योंकि लकड़ी से बने फर्नीचर की क्वालिटी ही अलग रहती है।

यदि आपके दिमाग में भी how to start a furniture making business जैसा सवाल आ रहा है तो आप इस आर्टिकल को पूरा और ध्यान पूर्वक जरूर पढियेगा क्योंकि आज इस आर्टिकल के माध्यम से आप फर्नीचर उद्योग से सम्बंधित सारी जानकारी जान पाएंगे तो आइये दोस्तों जानते हैं Furniture Making Business के बारे में।

इसे भी पढ़ें- 25 New Business Ideas in Hindi 2022 with Low Investment in India

फर्नीचर के अंतर्गत क्या-क्या आता है ?

फर्नीचर के अंतर्गत कुर्सी, मेज, तख़्त, दरवाजे, खिड़कियाँ, बेड, सोफासेट, तिपाई अलमारी आदि वें सभी चीजें आती हैं जो बैठने सोने व सामान रखने के काम आती हैं।आपने देखा होगा की बड़े बड़े घरानों के लोगों के मकान फर्नीचर से भरे पड़े रहते हैं एक से बढ़कर एक डिज़ाइन वाले फर्नीचर घर की शोभा बढ़ाते हैं। ये फर्नीचर ही इन घरों की शोभा होते हैं। आजकल के इस फैशन के दौर में खूबसूरत डिजाईन वाले फर्नीचर रखना हर घर की शान होती है।   

फर्नीचर का फ्यूचर मार्केट

furniture business ideas का फ्यूचर मार्केट बहुत ही स्वर्णिम है। आने वाले दिनों में इसकी मांग में जबरदस्त बढ़ोत्तरी होने वाली है, क्योंकि जैसे जैसे लोगों की आय बढ़ रही है लोग अपने  भौतिक सुख सुविधाओं को भी बढ़ा रहे हैं जिसमे अब मध्यवर्गीय परिवार भी पीछे नहीं हैं। अब मध्यवर्गीय परिवारों के घरों में आपको सभी आधुनिक फर्नीचर मिल जायेंगे, जैसे कि डिज़ाइनर बेड, सोफासेट, कुर्सियां, टेबल, डाइनिंग टेबल आदि। अतः फर्नीचर के बढ़ते मांग को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि Furniture Making Business का भविष्य बहुत उज्जवल है और ज्यादा मुनाफे वाला बिज़नस है।  

विभिन्न डिजाईन के फर्नीचर सैंपल वॉलपेपर 

आपको अपने शॉप में विभिन्न प्रकार के आकर्षक एवं आधुनिक डिजाईन के सैंपल वॉलपेपर  एल्बम उपलब्ध रखना होगा जिससे आपके ग्राहकों को विभिन्न तरह के डिजाईन मे से अपना मनपसंद डिजाईन चुनने में आसानी हो और वें अपनी आवश्यकता के अनुसार फर्नीचर बनाने का आर्डर आपको दे सकें। अतः आप विभिन्न डिजाईन वाले नए पुराने मॉडल सभी के सैंपल जरूर रखें क्योंकि किसी को पुरानी डिजाईन पसंद है तो किसी को नयी डिजाईन पसंद है।  

फर्नीचर बिज़नस कैसे शुरू करें ? (How to Start Wooden Furniture Business)

furniture making business को स्टार्ट करने से पहले आप अपने आसपास के फर्नीचर शॉप का सर्वेक्षण कर सकते हैं और लोगों से मिलकर इसके नफा नुक्सान के बारे मे समझ सकते हैं।यदि आपको फर्नीचर बनाने की जानकारी अर्थात बढ़ईगिरी आती है तो यह बिज़नस आपके लिए ज्यादा आसान होने वाला है यदि आप को इसकी जानकारी नहीं है और फिर भी आप यह बिज़नस करने के इच्छुक हैं तो आप इसकी विभिन्न जगहों से ट्रेनिंग ले सकते हैं या आप स्वयं काम न करके बढ़ईगिरी के जानकार लोगों को किराये पर रखकर काम करवा सकते हैं तथा उनको दैनिक या मासिक मजदूरी पर रख सकते हो इस प्रकार से आप अपना बिज़नस अपने एरिया में ही शुरू करके अच्छे से चला सकते हैं।  

इसे भी पढ़िए – टाट के बोरे बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें ?

अपना बिज़नेस कहाँ और कितने जगह से शुरू करें ? 

आपको अपना फर्नीचर शॉप एक ऐसे जगह पर खोलनी चाहिए जहाँ तक यातायात आवागमन की पूरी सुविधा हो तथा विद्युत् की आपूर्ति भी सुनिश्चित हो जहाँ तक लकड़ी की आपूर्ति का सवाल है,तो इसे कहीं से भी खरीदकर लाया जा सकता है।फर्नीचर शॉप मार्केट की भीड़ भाड़ वाली एरिया से थोड़ा दूर ही खोलना चाहिए क्योंकि फर्नीचर बनाते समय मशीनरी शोरगुल बहुत ज्यादा रहता है।  इससे दूसरे लोगों को डिसटरबेन्स होती है इसलिए इसे शहर की भीड़भाड़ से दूर ही खोलना चाहिए। यदि आप चाहो तो सिर्फ अपना वर्कशॉप शहर से बाहर खुलवा दो तथा मार्केट में ऑफिस एवं शोरूम खुलवा दीजिये जहाँ पर कस्टमर आयेंगे, अपने मनपसंद डिजाईन का फर्नीचर चुनकर आपको आर्डर देंगे और वर्कशॉप से माल तैयार होकर उनको सप्लाई हो जायेगा।  

आपके फर्नीचर शॉप में इतनी प्रयाप्त जगह अवश्य होनी चाहिए जिसमे एक ऑफिस, show room और वर्कशॉप बनाया जा सके इसके लिए कम से कम 1500 से 2000 वर्गफुट जगह अवश्य होनी चाहिए। 

Furniture Making Business
Furniture Making Business

आवश्यक कच्चा माल (Raw Material for Furniture udyog)

वैसे तो फर्नीचर बनाने हेतु मुख्य कच्चा माल लकड़ी होता है लेकिन जब आप बड़े स्तर पर फर्नीचर निर्माण कार्य की शुरुआत करने जा रहे हैं तो आपको कच्चे माल के रूप में निम्नलिखित चीजों को खरीदने की आवश्यकता होगी-

  • टिम्बर- (शीशम, सागौन, महुआ, जामुन, साल, साखू, आम, आदि की लकड़ी)  फर्नीचर उद्योग हेतु सदैव उन पेड़ों की लकड़ियों का इस्तेमाल ज्यादा किया जाता है जो ज्यादा  टिकाऊ होती हैं इस श्रेणी में शीशम, सागौन, महुआ, जामुन, साल, साखू, आदि की लकड़ियाँ आती हैं। 
  • प्लाईवुड- 
  • सनमाइका-
  • फेविकोल- 
  • शीशा- 
  • गोंद-
  • पेंट- 
  • वार्निश-
  • तारपीन का तेल-
  • गेरू व कलर मिट्टी-
  • लकड़ी का बुरादा-  

आवश्यक मशीनरी एवं उपकरण (Machinery & Equipments for Furniture Making Business)

furniture making business में विभिन्न तरह के फर्नीचर बनाने के लिए बहुत सारे यंत्रो व  औजारों का इस्तेमाल करना पड़ता है जिसमे से कुछ जरूरी औजार निम्नलिखित हैं- 

  • एक छोटी आरा मशीन-
  • सर्कुलर आरी- 
  • हाथ आरी और एक राऊटर व दो राऊटर बिट्स- 
  • बड़ा आरा- 
  • पॉवर ड्रिल- 
  • छीनी- 
  • रूखान-
  • बसुला- 
  • संड़सी-
  • डबल साइड प्लानर (रंदा)-
  • इंची टेप- 
  • स्पिंडल मौल्डर- 
  • टेनोनेर-

इन सभी मशीनों को आप इंडियामार्ट की वेबसाइट www.indiamart.com पर भी खरीद सकते हैं। 

कुल लागत

Furniture business plan शुरू करने हेतु आपको सभी आवश्यक टूल्स खरीदने के लिए लगभग एक से डेढ़ लाख रुपये की आवश्यकता पड़ेगी। इसके अलावा आपको लकड़ी खरीदने हेतु शुरुआत में कुछ रुपये की जरूरत होगी क्योंकि जब भी कोई नया आर्डर मिलता है तो उस ग्राहक से हाफ पेमेंट एडवांस में लिया जाता है जिससे आर्डर सिक्योर हो जाता है और आपको फर्नीचर बनाने में लगने वाली लागत अपने पास से नहीं लगानी पड़ती है। इस प्रकार से यह बिज़नस बहुत ही low investment से शुरू किया जा सकता है बस इसमें मुख्य लागत आपकी मेहनत और फर्नीचर बनाने की कुशलता है।

अवश्य पढ़ें- शेयर मार्केट में निवेश कैसे करें ?   

क्या कोई लाइसेंस भी लगेगा ? 

वैसे तो फर्नीचर शॉप चलाने हेतु जीएसटी रजिस्ट्रेशन कराने के अलावा और कोई लाइसेंस नहीं  लेना पड़ता है परन्तु साथ में यदि आपने आरा मिल भी लगाया है तो आपको इसकी अनुमति सम्बंधित राज्य पर्यावरण एवं वन आयोग से लेनी होगी तथा इसका लाइसेंस जारी करवाना होगा ताकि आप बाद में किसी कानूनी अड़चन में न फंस जाएँ। 

Furniture Making Business
Furniture Making Business

प्रचार-प्रसार

जब तक आपके फर्नीचर शॉप का प्रचार प्रसार नहीं होगा आप के कस्टमर बढ़ेंगे नहीं तब तक आप कमाई नहीं कर सकते हैं इसलिए ज्यादा से ज्यादा आर्डर पाने के लिए आपको अपने कस्टमर बढ़ाने होंगे। इसके लिए आपको विभिन्न कॉन्ट्रैक्ट बिल्डर्स से संपर्क रखना होगा क्योंकि हर नए मकान को बनाने में फर्नीचर की आवश्यकता होती जैसे दरवाजा, खिड़कियाँ आदि, जिसे बनाने का आर्डर आपको मिल सके। ये जो कॉन्ट्रैक्ट बिल्डर्स होते हैं इनको थोक मात्रा में दरवाजे खिडकियों की जरूरत होती है इसलिए इनसे संपर्क बनाना आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा। इसके अलावा जिन लोगों के घरों में शादियाँ होने वाली है उनसे संपर्क बना कर रखिये ताकि उनका आर्डर आपको मिल सके, क्योंकि शादी विवाह के शुभ अवसर पर लोग बेड सोफे कुर्सियां आदि अपने बेटियों को देते हैं तथा इन सब चीजों के सिवाय आप विभिन्न चौराहों पर अपना बैनर होर्डिंग्स लगा कर अपने शॉप का प्रचार प्रसार कर सकते हैं।

Furniture Business Plan में कुछ ध्यान देने वाली बातें

  1. इस लघु उद्योग में सबसे मुख्य बात यह होनी चाहिये कि अपने कस्टमर को जिस लकड़ी का  फर्नीचर देने का आपने वादा किया है उसे उसी लकड़ी का फर्नीचर बनाकर दीजिये जिससे कस्टमर का विश्वास आप जीत सकें।
  2. दूसरी बात फर्नीचर मजबूत बनाकर दीजिये जिससे संतुष्ट होकर कस्टमर आपको दुबारा आर्डर करे या दुसरे ग्राहकों को आपके यहाँ फर्नीचर बनवाने के लिए सजेस्ट करे।
  3. फर्नीचर की रंगाई किया जाने वाला पेंट अच्छी क्वालिटी का हो जो जल्दी से छूटे न। 
  4. आप हमेशा अपने ग्राहकों को नए नए मॉडल के फर्नीचर बनाकर दीजिये जिससे उनकी जिज्ञासा आपसे फर्नीचर बनवाने या खरीदने की बनी रहे। 
  5. सबसे मुख्य बात आप अन्य फर्नीचर शॉप की तुलना में अपना रेट हमेशा रिज़नेबल रखिये।     

कमाई (Furniture Business Profit Margin in India)

जहाँ तक furniture making business में कमाई की बात की जाये तो इसमें कमाई बहुत ज्यादा है। देखा गया है कि फर्नीचर बनाने वाले लोग लकड़ी की लागत से दो गुना पैसा फर्नीचर का वसूल लेते हैं। यदि आपके पास सुन्दर डिजाईनों वाले अच्छे अच्छे फर्नीचर बनाने की खूबसूरत कला छिपी हुयी है तो आप अपने ग्राहकों को सुन्दर एवं मनमोहक फर्नीचर बेंचकर बहुत अच्छा मुनाफा कमा सकते हो। इस व्यवसाय में बहुत से लोग लाखों रुपये महीने कमा रहे हैं और आप भी अपने मेहनत और लगन से काम करके लाखों रुपये महीने के कमा सकते हो। 

निष्कर्ष

मुझे आशा एवं पूर्ण विश्वास है की आपको furniture making business आईडिया बहुत जबरदस्त एवं हेल्पफुल लगा होगा। यदि आप इस पोस्ट से थोड़ा भी लाभान्वित हुए हों तो प्लीज  कमेन्ट करके जरूर बताइयेगा और अपने दोस्तों को ज्यादा से ज्यादा शेयर करना मत भूलियेगा आपके द्वारा मिलने वाले रेस्पोंस से हमें बहुत अधिक प्रेरणा मिलती है जिससे आपके लिए नए नए बिज़नस आइडियाज लाते रहते हैं धन्यवाद। 

इसे भी पढ़ें- गुड़ बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें ?

   

About Ved Prakash Yadav


Leave a Comment

Your email address will not be published.