Medical store kaise khole?| A to Z full Process to open medical store

medical store kaise khole

जब से कोरोना आया है तब से मेडिकल store पर काफी भीड़ देखने को मिल रहा है और इस भीड़ को देखते हुए कहीं न कहीं हम ये जरूर सोचते हैं की Medical store kaise khole. मेडिकल स्टोर एक सदाबहार बिजनेस है जो साल भर चलता रहता है चाहे कोई भी मौसम हो। लोग हर मौसम में बीमार होते रहते हैं ऐसे में लोग डॉक्टर के पास जाते हैं और डॉक्टर दवा लिख देते हैं जिसे हम लेने के लिए मेडिकल शॉप पर जाते हैं।

लेकिन दोस्तों जब से कोरोना ने चारों तरफ हाहाकार मचाया है तब से अस्पताल में न तो डॉक्टर मिल रहे हैं न ही दवाइयां ऐसे में लोगों का एक ही सहारा है और वो है medical store. अगर आज के समय में मेडिकल store न होते तो कईयों की जानें चली गयी होती। इसलिए सबसे जरूरी है अपने स्वास्थ्य की देखभाल करना और ये तभी संभव है जब हम बीमार हों तो हमारा इलाज हो और इलाज के समय जिन-जिन दवाइयों की जरुरत पड़े वो उपलब्ध हो सके।

इन्हीं सब चीजों को देखते हुए यदि मेडिकल स्टोर का बिजनेस ओपन किया जाय तो काफी फायदे का बिजनेस हो सकता है। दोस्तों आज के इस लेख में हम आपको Medical store kaise khole की पूरी जानकारी देने वाले हैं कि किस तरीके से आप मेडिकल store खोल सकते हैं क्या प्रोसेस होता है, क्या योग्यता होनी चाहिए और भी बहुत कुछ तो आपसे request है की इस लेख को पूरा जरूर पढियेगा।

Medical Store क्या है? (What is medical store business plan)

Medical store से अभिप्राय एक ऐसी दुकान से है जहाँ पर स्वास्थ्य से जुड़ी कई प्रकार की दवाइयों की बिक्री की जाती है। ये ऐसे Pharmacy shop होते हैं जहाँ पर फुटकर में दवाएं बेचीं जाती हैं। इन दुकानों पर ग्राहक बिना किसी डॉक्टर के सलाह के भी दवाओं को खरीद सकता है लेकिन कुछ दवाएं ऐसी होती हैं जिन्हें बिना किसी डॉक्टर के सलाह के नहीं खरीदनी चाहिए चूँकि ये बिजनेस स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ बिजनेस है इसलिए इस बिजनेस में मंदी का सामना नहीं करना पड़ता है।

मेडिकल स्टोर कैसे खोले (How to start a pharmacy store in india)

Pharmacy Shop दो प्रकार से खोला जा सकता है पहला बड़े स्तर पर, जिसमे उद्दमी खुद पूँजी लगाकर बृहद स्तर पर शॉप ओपन कर सकता है जिसमे वह किसी फार्मासिस्ट को नियुक्त कर सकता है। और दूसरा छोटे स्तर पर, जिसमे उद्दमी कम पूँजी लगाकर खुद करना चाहता है यदि उद्दमी खुद medical store ओपन करना चाहता है तो उसे बी.फार्मा या डी. फार्मा करने की आवश्यकता होती है।

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए आवश्यक कोर्स (Eligibility for opening medical store)

दोस्तों मेडिकल शॉप बिजनेस आप तभी शुरू कर सकते हैं जब इनमे से आपने कोई कोर्स किया हुआ हो। यदि अभी तक आपने ये कोर्स नहीं किया है और आप फार्मेसी शॉप खोलना चाहते हैं तो आपको निम्नलिखित में से कोई न कोई कोर्स कर लेना चाहिए।

डी. फार्मा (Diploma in pharmacy)- जो लोग बायोलॉजी से इंटरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण किये हुए होते हैं और जिनका इंटर में 50% अंक है वो लोग डी.फार्मा कोर्स कर सकते हैं। यह 3 वर्ष का कोर्स होता है जिसे आप सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज दोनों से कर सकते हैं।

बी. फार्मा (Bachelor of Pharmacy)- बी. फार्मा कोर्स करने के लिए इंटरमीडिएट में कम से कम 50% अंक होने चाहिए। साथ ही इंटर बायो से होना चाहिए। इस कोर्स की अवधि 4 साल की होती है। बी.फार्मा में एडमिशन के लिए राज्य सरकार द्वारा आयोजित प्रवेश परीक्षा को पास करना अति आवश्यक होता है जो लोग मेडिकल शॉप खोलना चाहते हैं वो इस कोर्स को कर सकते हैं। कोर्स कम्पलीट करने के बाद 6 महीने का किसी सरकारी या प्राइवेट अस्पताल से प्रशिक्षण लेना आवश्यक होता है।

एम. फार्मा (Master of Pharmacy)- ये दो साल का कोर्स होता है और m.pharma में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट को बी.फार्मा में पास होना जरूरी है जिसमे 50% अंक होने चाहिए। एम.फार्मा करने के बाद व्यक्ति को दवाइयों के बारे में बहुत अधिक जानकारी हो जाती है लेकिन इस कोर्स को करने के लिए छात्र को बहुत मेहनत करनी पड़ती है।

Pharmacy Council में रजिस्टर करना

जब व्यक्ति की फार्मेसी कम्पलीट हो जाती है तो एक रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट बनने हेतु राज्य की Pharmacy Council में registered करना होता है। इसके लिए उम्मीदवार को शैक्षणिक दस्तावेज के अलावा कुछ अन्य दस्तावेज देने होते हैं जिसे verify किया जाता है ये आवेदन उम्मीदवार ऑनलाइन भी कर सकता है।

मेडिकल स्टोर खोलने के नियम (Medical store rules and regulations)

यदि कोई व्यक्ति मेडिकल store खोलना चाहता है तो उसके पास डी.फार्मा, बी.फार्मा, एम.फार्मा में से कोई एक सर्टिफिकेट होना आवश्यक है। इसी सर्टिफिकेट के आधार पर State Drugs Standard Control Organization और Central Drugs Standard Control Organization के द्वारा मेडिकल store खोलने का लाइसेंस दिया जाता है।

medical store kaise khole
medical store kaise khole

Pharmacy का चुनाव

भारत में बहुत प्रकार के फार्मेसी हैं लेकिन जो सबसे ज्यादा प्रचलित हैं वो केवल 4 ही हैं।

Hospital Pharmacy

Township Pharmacy

Chain Pharmacy

Stand Alone Pharmacy

  1. Hospital Pharmacy- इस प्रकार की फार्मेसी को किसी हॉस्पिटल में खोला जाता है जहाँ पर डॉक्टर के द्वारा लिखे दवाइयों को मरीजों को दिया जाता है।
  2. Township Pharmacy- इस प्रकार की फार्मेसी आप किसी बस्ती या स्माल टाउन में ओपन कर सकते हैं और वहां के patient को दवा दे सकते हैं।
  3. Chain Pharmacy- chain फार्मेसी के अंतर्गत वे मेडिकल store आते हैं जो एक ही कंपनी के अलग-अलग शहरों में कई मेडिकल खुले हुए होते हैं।
  4. Stand alone pharmacy- जो लोग किसी residential एरिया या किसी गली मोहल्ले में अपना खुद का मेडिकल store खोलते हैं उसे स्टैंड alone फार्मेसी कहते हैं सबसे ज्यादा मेडिकल store इसी तरह के खोले जाते हैं।

लाइसेंस लेने हेतु आवश्यक दस्तावेज (Medical store license and documents)

  • Application Form
  • Pharmacist Living Certificate
  • High School Passing Certificate
  • Aadhar Card
  • Diploma Certificate or Marksheet in Pharmacy
  • Experience Certificate
  • Proof of Ownership
  • Fee Deposit Challan
  • Site plan
  • Documents of Registered Pharmacist

लाइसेंस लेने की प्रक्रिया (Drug license for medical store)

उपर्युक्त दिए गए सभी डाक्यूमेंट्स को इकठ्ठा करने के बाद आप जिस राज्य के निवासी हैं उस स्टेट के State Drugs Standard Control Organization के पास apply करें। यहाँ पर आपको इनके द्वारा निर्धारित शुल्क देना पड़ेगा जैसे ही आपका आवेदन सफलता पूर्वक संपन्न हो जाता है उसके 3 महीने के अन्दर आपका लाइसेंस आपके दिए हुए address पर आ जाता है।

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए आवश्यक जगह (Area Required for Medical Shop)

अगर हम बात करें Area Required For Medical Store की, तो फुटकर दवा विक्रेता के लिए कम से कम 100 से 110 squire feet की जगह की आवश्यकता होगी। लेकिन अगर आप थोक विक्रेता के लिए मेडिकल शॉप खोल रहे हैं तो आपको 200 से 250 स्कवायर फीट जगह की आवश्यकता पड़ेगी।

दवा कहाँ से खरीदें

दोस्तों मेडिकल store खोलने के बाद उद्दमी के पास ये समस्या होती है कि दवा कहाँ से खरीदें, देखिये दोस्तों यहाँ पर दवा खरीदने के लिए आपके पास दो रास्ते हैं, पहला तो ये कि आप दवा निर्माता कंपनियों से सीधे संपर्क कर सकते हैं और उनसे दवा खरीद सकते हैं लेकिन यहाँ पर सबसे बड़ी बात ये हैं कि इसके लिए आपको बहुत ज्यादा निवेश करने की आवश्यकता होगी क्योंकि छोटे स्तर पर कंपनियां दवा देने के लिए मना कर देती हैं।

दूसरा तरीका ये है की आप अपने आस पास के शहर में सप्लाई करने वाले बड़े-बड़े थोक विक्रेता से संपर्क कर सकते हैं ये लोग छोटे स्तर पर खोलने वाले मेडिकल शॉप को डील करते हैं और यहाँ पर आपको सभी प्रकार की दवाएं भी मिल जाती है।

मेडिकल स्टोर में आने वाली लागत (Medical Shop Business Cost)

जो लोग नए हैं जिनको इसके बारे में कुछ नहीं पता होता उनका सबसे पहला सवाल ये होता है कि How much investment needed to start a medical shop. तो मैं आपको बता दूँ कि मेडिकल स्टोर की शुरुआत करने के लिए कम से कम 2 लाख रूपये की आवश्यकता होगी तभी आप अपने store में विभिन्न प्रकार के दवाओं को रख पाएंगे यदि आप और बड़ी शॉप ओपन करना चाहते हैं तो आपको लगभग 5 से 7 लाख रूपये की आवश्यकता होगी।

medical store kaise khole
medical store kaise khole

मेडिकल शॉप से होने वाली कमाई (Medical shop business profit)

वैसे मेडिकल शॉप से बहुत अच्छी कमाई की जा सकती है क्योंकि दिन प्रतिदिन मरीजों की संख्या बढती जा रही है। अमूमन मेडिकल स्टोर पर दो तरह की दवाइयां बेचीं जाती हैं, एक जेनरिक दवाइयां और दूसरी इथिकल दवाइयां। जेनरिक दवाइयों में लगभग 40 से 50 प्रतिशत का प्रॉफिट मार्जिन होता है जबकि इथिकल दवाइयों का प्रॉफिट मार्जिन अलग-अलग कंपनियों का अलग-अलग होता है।

इस बिजनेस में लाखों रुपया महीना कमाया जा सकता है medical store business profit margin का कोई exact आंकड़ा नहीं होता है ये आपके ऊपर depend करता है की आप किस तरीके से डील करते हैं।

बिक्री कैसे बढ़ाएं (How to increase drug selling)

दवाइयों की बिक्री बढ़ाने के लिए जितने भी आस-पास के डॉक्टर हों उनसे संपर्क करें उनको आप बोल सकते हैं कि जो दवाइयां लिखें वो आपके मेडिकल शॉप पर भेजें इसके बदले में आप उनको commission दे सकते हैं।

आपने देखा होगा कि हर गाँव और छोटे-छोटे कस्बे में छोटे मोटे डॉक्टर होते हैं आप उनसे संपर्क करें और उनको बोलें की वो आपके store से दवाई खरीदें और ऐसा तभी होगा जब आप दूसरों से उनको अधिक छूट देंगे।

अलग-अलग डॉक्टर अलग-अलग प्रकार की दवाइयां लिखते हैं जिससे कस्टमर परेशान हो जाता है कई बार तो कई सारे मेडिकल शॉप पर दवाइयों को ढूँढना पड़ता है इसलिए आप सभी प्रकार की दवाइयों को अपने store में रखने का प्रयास करें और थोडा प्रचार-प्रसार करने की कोशिश करें। जब लोगों को पता चल जायेगा की आपके store पर हर प्रकार की दवाई मिल जाती है तो लोग आपके ही medical shop पर आयेंगे।

निष्कर्ष

दोस्तों इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद Medical Shop Kaise Khole की सम्पूर्ण जानकारी आपको मिल गई होगी यदि आप medical store खोलना चाहते हैं और कोई बात आपको समझ में नहीं आ रहा है तो आप अपनी समस्या को कमेंट करके बता सकते हैं आप Medical store rules and regulations को follow करते हुए medical store in India में कहीं भी खोल सकते हैं धन्यवाद।

ये भी पढ़िए- 70 छोटे बिज़नस आइडियाज

About Amit Kumar

Hello Friends! मेरा नाम अमित कुमार है, मैं एक फुल टाइम Youtuber और Blogger हूँ. मेरा मकसद उन लोगों को आगे बढाने का है जो लोग बिज़नस करके आगे बढ़ना चाहते हैं लेकिन कुछ लोगों को सही जानकारी न होने के कारण आगे नहीं बढ़ पाते हैं. इस ब्लॉग पर आपको नई-नई बिज़नस Read More


1 thought on “Medical store kaise khole?| A to Z full Process to open medical store”

  1. आपने बहुत हीं बढ़िया तरीके से सभी जानकारी दी है। मैने आपके और भी पोस्ट पढ़ें हैं जिनमे काफी अच्छी जानकारी दी हुई है। आगे भी आप इसी तरह का पोस्ट हमारे साथ शेयर करते रहें और एक बार मेरे लिखे हुए पोस्ट को भी जरूर पढ़ें। धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published.