Paneer Making Business Plan | Investment and Profit | पनीर बनाने का व्यवसाय

Paneer Making Business

दोस्तों पनीर का नाम सुनते ही मन में एक जायकेदार और स्वादिस्ट व्यंजन का दृश्य उभर आता है, मटर पनीर की सब्जी का चलन आजकल अमीर- गरीब लगभग हर वर्ग के घरों में होने लगा है। शादी विवाह और अन्य सभी शुभ अवसरों पर Paneer की बहुत जबरदस्त मांग रहती है, दिन प्रतिदिन पनीर की मांग बढती जा रही है आजकल पनीर का व्यवसाय दिन- दूना रात- चौगुना बढ़ रहा है। अतः मैं आपके लिए आज पनीर बनाने के व्यवसाय के बारे में पूरी जानकारी लाया हूँ जिससे आप अपने क्षेत्र में Paneer Making Business शुरू करके अच्छा मुनाफ़ा कमा सकें।

Paneer Making Business की शुरुआत कैसे करे?

इसके लिए सबसे पहले आपको एक ऐसा उचित और साफ़ सुथरा स्थान चुनना होगा जहाँ से आपको कच्चा माल (दूध )आसानी से मिल जाए। इस बिज़नेस में कच्चे माल की शुद्धता अति आवश्यक है, क्योकि मिलावटी दूध होने पर उत्पादन प्रभावित होगा और लागत भी बढ़ेगी।

Paneer Market Potential

दक्षिणी भारत को पनीर उत्पादन के लिए सबसे बड़ा मार्किट माना जाता है हालाँकि पनीर की popularity देश के हा राज्यों में है आज के समय में कोई भी व्यक्ति चाहे वो शाकाहारी हो या मांसाहारी, बाहर खाना ज्यादा पसंद करते हैं और उस समय वो बाहर के होटल, restaurant वालों से पनीर की डिमांड करते हैं मतलब की यात्रा करने के दौरान भी लोग इसे खाना पसंद करते हैं इसकी बिक्री किराना शॉप, सुपर मार्केट, departmental stores आदि पर किया जाता है इसके अलावा भारी मात्रा में hotel, Restaurant, ढाबा आदि पर पनीर की मांग रहती है।

भारत में पनीर की खपत लगभग 25% से 30% हर साल बढ़ रही है इसलिए यदि आप छोटे पैमाने पर भी Paneer manufacturing unit लगाते हैं तो आप इस व्यवसाय से काफी लाभ प्राप्त कर सकते हैं। अगर आप डेरी उद्योग कर रहे हैं तो पनीर बनाने का व्यवसाय आपके लिए सबसे बेहतरीन बिकल्प है।

आवश्यक कच्चा माल एवं उपकरण (Paneer Making Machine)

Paneer Making Business के लिए मुख्य रूप से दूध की आवश्यकता होती है। इसके अलावा साइट्रिक एसिड की भी आवश्यकता पड़ती है जिससे दूध को फाड़कर पनीर बनाते है आज के प्रतिस्पर्धा के दौर में कम लागत में ज्यादा और उत्कृष्ट गुणवत्ता की पनीर बनाने के लिए paneer banane ki machine निम्नलिखित है –

  1. दूध रखने के लिए एलुमिनियम के भगोने
  2. ब्वायलर
  3. मिल्क क्वालिटी टेस्टिंग मशीन
  4. फैट रिमूवर
  5. प्रीसिपीटेशन टैंक जो स्टील का बना हुआ हो
  6. फ्रीजर
  7. वेट मशीन
  8. वैक्यूम पैकिंग मशीन
  9. लेबलिंग मशीन

आवश्यक लाइसेंस (License for paneer making)

आप कोई भी व्यवसाय करो उससे सम्बंधित लाइसेंस तो बनवाना ही पड़ता है चूंकि यह एक खाद्य पदार्थ है इसलिए FSSAI रजिस्ट्रेशन करवाना पडेगा साथ ही स्थानीय नगरपालिका या नगर पंचायत से मैन्युफैक्चरिंग एंड ट्रेड लाइसेंस लेना होगा। Paneer manufacturing business में सरकार के कुछ मानको जैसे पनीर में 70% से ज्यादा नमी नहीं होनी चाहिये और 50% से कम वसा नहीं होनी चाहिये, का पालन होना जरुरी है इस टेस्ट में पास होने के बाद आपको एमएसई उद्योग आधार में रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है। इसके अलावा आपको शुद्धता के BIS होलमार्क प्रमाणपत्र के लिए भी आवेदन करना पड़ता है।

व्यावसायिक स्तर पर पनीर बनाने की प्रक्रिया (Paneer Making Process)

paneer making business
paneer making business

बड़े स्तर पर paneer making business के लिए दूध को एक बड़े paneer boiler में उबालते है इसके लिए इसे लगभग 60 डिग्री तापमान तक गर्म करते है ताकि दूध में उपस्थित जीवाणुओं को नष्ट किया जा सके फिर इसमें से पानी अलग करने के लिए साइट्रिक एसिड (Paneer making using citric acid) की कुछ बूंदे डाली जाती है जिससे दूध में से पनीर अलग हो जाती है और पानी अलग हो जाता है फिर इसे मलमल के कपड़े से छानते है और पनीर को ढककर किसी भारी चीज से दबा देते है जब पनीर पूरी तरह से सेट हो जाता है तब उसके अलग- अलग आवश्यक्तानुसार टुकड़े काट लेते है।

  • यहाँ क्लिक करें और पायें 👉👉 65 Small Business Ideas 2020 की जानकारी हिंदी में।

पैकेजिंग एवं भंडारण (Paneer ki packing)

चूंकि पनीर एक ऐसा प्रोडक्ट है, जिसको हम ज्यादा दिन तक सुरक्षित नहीं रख सकते है, अतः इसकी पैकेजिंग एवं भंडारण उचित ढंग से होना अति आवश्यक है, क्योकि सही पैकेजिंग पनीर की लाइफ बढ़ा देती है। इसके लिए पनीर के टुकडो को वैक्यूम पैकिंग मशीन की सहायता से पोलीथीन पाउच में पैक किया जाता है, इसके बाद इसे डीप फ्रीजर में रखा जाता है।

इस बिज़नेस को शुरू करने हेतु आवश्यक कुल पूंजी (Paneer business project report)

अगर आप PANEER MAKING BUSINESS शुरू कर रहे हैं तो इस बिज़नेस को छोटे स्तर पर 50000 से 100000 तक में शुरू किया जा सकता है परन्तु बड़े स्तर पर शुरू करने के लिए आपको कच्चा माल, मशीनरी, कमरे का किराया, बिजली का बिल, मजदूर का वेतन इत्यादि पर अधिक खर्च करना पड़ सकता है। इसके लिए आपको लगभग 1,50,000 से 2,00000 रुपये की प्रारंभिक पूंजी लगानी पड़ सकती है। इसके सिवाय दूध की लागत लगभग 35 से 40 रुपये प्रति KG आता है।

कितनी होगी कमाई (Soya paneer business profit)

अगर paneer making business से कमाई की बात करे तो 1 ली0 शुद्ध दूध से लगभग 150 से 180 ग्राम तक पनीर मिल जाता है। इस प्रकार यदि आप 500 ली0 दूध प्रतिदिन से शुरुआत करते है तो आपको लगभग 90 KG तक पनीर मिल जाता है जिसका market रेट लगभग 250 से300 रुपये प्रति किलोग्राम तक रहता है। इस रेट से गणना करने पर 90 KG का मूल्य 90 X 300 = 27000 रुपये हो जाते है। इस तरह से लागत घटाने के बाद आप लगभग 5 से 7 हजार रुपये प्रतिदिन कमा सकते हैं।

बिक्री कैसे बढ़ाये

अब आप सोच रहे होंगे की How to sell paneer? तो मैं आपको बता दूं कि कोई भी बिज़नेस तभी सफल हो सकता है जब उसके द्वारा बनाये गये प्रोडक्ट्स की अधिकतम बिक्री हो। इसके लिए आप छोटे- बड़े होटलों, RESTAURANT, इवेंट मैनेजर आदि से संपर्क कर सकते हैं, तथा शादी-विवाह, मुंडन, भंडारा आदि विशेष आयोजनों के अवसर पर लोगों से आर्डर ले सकते हैं ताकि आपके प्रोडक्ट्स की बिक्री बढ़ सके।

निष्कर्ष (Conclusion)-

इस व्यवसाय को आप लोगों के द्वारा बढ़ते मांग को देखते हुए शुरू कर सकते हैं Paneer Making Business एक सफल घरेलु उद्योग है जिसे कोई भी व्यक्ति कर सकता है आप Paneer Making Machine के द्वारा Paneer Business बड़े स्तर पर शुरू करके अच्छा प्रॉफिट पा सकते हैं।

दोस्तों आपको Paneer business plan in hindi से कुछ जानकारी मिला हो तो भाई इस पोस्ट को अपने दोस्तों तक जरूर share करना और हमें कमेंट करके बताओ की आपको किस बिज़नेस की जानकारी चाहिए धन्यवाद।

इसे भी पढ़िए –

About Ved Prakash Yadav


3 thoughts on “Paneer Making Business Plan | Investment and Profit | पनीर बनाने का व्यवसाय”

Leave a Comment

Your email address will not be published.