Slipper Making Business in Hindi | 2022 में चप्पल बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें ?

Slipper Making Business

Slipper Making Business आज के समय का सबसे बेहतरीन व्यवसाय है। अगर आप घर पर रहते हैं या खेतों में काम पर जाते हैं तो आपके पैरों के लिए सबसे आरामदायक चप्पल है जिसका प्रयोग घर के जवान, बूढ़े, बच्चें, औरतें सभी लोग करते हैं, क्योंकि अपने पैरों को कंकड़ पत्थर, कील कांटे व सर्दी गर्मी से सभी बचना चाहते हैं। स्लिपर यानि हवाई चप्पल काफी हल्का होता है इसे किसी भी उम्र के लोग पहन सकते हैं। इसीलिए लोग घर पर रहते वक्त ज्यादातर चप्पल पहनना ही पसंद करते हैं इसलिए इसकी मांग बाज़ार में सदैव बनी रहती है। भारत में चप्पल की बिक्री अत्यधिक मात्रा में होती है अधिकतर  लोग चप्पल का प्रयोग घर के अन्दर किया करते हैं।चप्पल कई तरह के होते हैं कुछ तो ऐसे होते हैं जिनको पहनकर आप घर से बाहर चौराहे या बाज़ार भी जा सकते हैं बाज़ार में कई तरह की छोटी बड़ी रंगीन चप्पलें बिकनी शुरू हो गयी हैं इनचप्पलों को बेंचकर कंपनियां काफी मुनाफा कमा रही हैं।   

इसलिए दोस्तों आज के इस पोस्ट में मैं आप लोगों को slipper making business के बारें में सम्पूर्ण जानकारी दूंगा जिसे पढ़कर और जान समझकर आप अपना बिज़नस आसानी से शुरू  कर सको। 

इसे भी पढ़ें- एक ही मशीन से शुरू करें कई उद्योग 

फ्यूचर मार्केट

हमारे दैनिक जीवन में प्रयुक्त होने वाली कुछ सामग्री ऐसी हैं जिनका प्रयोग मनुष्य कालांतर तक करता रहेगा या  यूँ कहिये कि जब तक धरती पर मानव जीवन रहेगा, तब तक इन चीजों का उपयोग होता रहेगा। इन्ही चीजों में से एक आवश्यक वस्तु चप्पल भी है। चप्पल का बिज़नस कभी बंद होने वाला नहीं है

इसका फ्यूचर मार्केट बहुत अच्छा है जैसे जैसे पृथ्वी पर जनसँख्या बढ़ रही है दिन प्रतिदिन  इसकी मांग में भी बढ़ोत्तरी होने वाली है।   

Chappal Business कैसे शुरू करें?

slipper making business की शुरूआत करने के लिए आप सबसे पहले अपने आसपास के मार्केट्स में चप्पल की सभी छोटी बड़ी दुकानों का सर्वे कर लीजिये। उनसे इसमें होने वाले नफा नुक्सान के बारे में चर्चा कर लीजिये आप को इस बिज़नस के बारे में थोड़ा बहुत आईडिया जरूर मिल जायेगा। इसके अलावा आप किसी फैक्ट्री में विजिट करके चप्पल बनाने का प्रोसेस देख सकते हैं वहां से चप्पल बनाने का प्रशिक्षण भी ले सकते हैं।  

Chappal Making Business कहाँ शुरू करें?

चप्पल बनाने के लिए कोई जरूरी नहीं है की मार्केट में ही आपकी फैक्ट्री लगनी चाहिए इसे तो आप अपने घर से भी शुर कर सकते हो बशर्ते आपका मार्केटिंग सिस्टम बेहतर हो जिससे तैयार माल बिकने में कोई दिक्कत न हो। इसको ऐसे जगह पर लगाएं जहाँ तक यातायात आवागमन की पूरी सुविधा हो तथा विद्युत् कनेक्शन उपलब्ध हो यदि आपके पास खुद का मकान मार्केट में है तो आपके लिए मार्केट में फैक्ट्री लगाना बेहतर रहेगा।  

चप्पल बनाने के लिए कच्चा माल (Slipper Making Raw Material)

हवाई चप्पल बनाने में निम्नलिखित रॉ मटेरियल की आवश्यकता होती है-

  • रबर शीट- इस बिज़नस में मुख्य रूप से कच्चा माल रबर शीट ही होता है जिसका प्रयोग चप्पल का सोल बनाने में किया जाता है।  
  • चप्पल की स्ट्रेप(फीता)-  यह चप्पल के ऊपर पैरो में फंसाने हेतु लगाया जाता है जिससे चप्पल पैर से निकले न। 
  • पीवीसी पेंट- इसका प्रयोग चप्पल के ऊपरी हिस्से पर पेंटिंग करने हेतु किया जाता है। 
  • कार्टून डिजाईन के logo-  इनके उपयोग से चप्पल को और ज्यादा खूबसूरत बनाया जाता है। 
Slipper Making Business
Slipper Making Raw Material

इस आर्टिकल को अवश्य पढ़ें – आलू के चिप्स बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें ?

आवश्यक मशीनरी (Slipper Making Machine)

चप्पल या slipper manufacturing business शुरू करने के लिए आपको निम्नलिखित मशीनों की आवश्यकता पड़ेगी-

  • हैण्ड ऑपरेटेड सोल कटिंग मशीन या आटोमेटिक सोल कटिंग मशीन- इन दोनों मशीनों में से किसी एक को ही खरीदने की जरूरत पड़ती है इन दोनों मशीनों का उपयोग सोल कटिंग के लिए किया जाता है। 
  • ग्राइंडिंग मशीन- यह मशीन सोल के दोनों तरफ के खुरदरे तल को प्लेन करने के लिए प्रयोग की जाती है जिससे सोल में फिनिशिंग आ जाती है।  
  • ड्रिल मशीन- यह मशीन सोल में फीता लगाने के स्थान पर छेद करने के लिए की जाती है।  
  • स्क्रीन प्रिंटिंग मशीन- इस मशीन से सोल के ऊपरी हिस्से को विभिन्न रंगों में पेंट किया जाता है। 
  • स्ट्रैप फिटिंग मशीन- यह मशीन चप्पल में फीता लगाने के काम आती है। 
  • चप्पल की 3 से 10 नंबर तक की साइज़ की डाई- छोटे बच्चों से लेकर जवान और बूढ़े सभी के पैर  की साइज़ का चप्पल बनाना होता है जिसके लिए विभिन्न आकार की डाई की जरूरत होती है। 
Slipper Making Business
Slipper Making Business

आवश्यक पूँजी (Slipper Making Business Project Report)

हवाई चप्पल बनाने के व्यवसाय को आप दो तरीके से शुरू कर सकते हैं पहला मैन्युअल मशीन लेकर और दूसरा आटोमेटिक मशीन खरीदकर। अगर आप मैन्युअल मशीन लेकर इस व्यवसाय को शुरू करते हैं तो आप मात्र 35000 रूपये में इस व्यवसाय को शुरू कर सकते हैं इसके अलावा अगर आप आटोमेटिक मशीन लेकर बिज़नेस की शुरुआत करते हैं तो आपको एक से डेढ़ लाख का investment करना पड़ेगा, जिसमे आपकी सभी आवश्यक मशीन और थोड़ा बहुत रॉ मटेरियल भी मिल जायेगा जिससे आप खुद के बिज़नस की शुरुआत कर सकते हैं इसके बाद जैसे-जैसे बिक्री बढती जाय, आप लागत बढ़ा कर अपने बिज़नस को और बड़ा कर सकते हैं।

लाइसेंस एवं ब्रांडिंग

जब आप चप्पल बनाने का व्यवसाय बड़े स्तर पर करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कुछ जरूरी कानूनी कार्यवाहियों को पूरा करना होता है जिसमे सबसे पहला काम है जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाना इसके बाद आपको अपना ब्रांड नेम रजिस्टर करवाना होगा जिससे की आपके ब्रांड के नाम पर कोई डुप्लीकेट प्रोडक्ट मार्केट में न बेंच सके। लेकिन दोस्तों अगर आप छोटे स्तर पर अपना चप्पल बनाने का व्यवसाय करना चाहते हैं तो आपको डरने की कोई जरुरत नहीं है आप बिना कोई लाइसेंस के Slipper Chappal बना कर मार्किट में बेंच सकते हैं।  

चप्पल बनाने की विधि (Slipper Making Process)

औद्योगिक स्तर पर चप्पल बनाने के लिए निम्नलिखित स्टेप का प्रयोग किया जाता है- 

  • शीट कटिंग- सबसे पहले रबर शीट को सोल कटिंग मशीन में रखा जाता है इसके बाद आपको जिस नम्बर की सोल बनानी होती है उसी नम्बर की डाई रबर शीट के ऊपर रख दिया जाता है जिससे उसी आकार का कटिंग हो जाता है कटिंग के दौरान ही चप्पल में फीते लगाने के स्थान पर छोटे छोटे सुराख भी हो जाते हैं।  
  • ग्राइंडिंग मशीन द्वारा फिनिशिंग- कटिंग के बाद ग्राइंडिंग मशीन की सहायता से चप्पल के खुरदरे हिस्से को प्लेन किया जाता है इसे बहुत ही सावधानी के साथ चप्पल के चारो तरफ मशीन से  प्लेन किया जाता है जिससे चप्पल की ख़ूबसूरती थोड़ी बढ़ जाती है।    
  • ड्रिलिंग मशीन से सुराख़ करना- चप्पल के चारों तरफ ग्राइंडिंग करने के बाद अब इन चप्पलों में ड्रिल मशीन की सहायता से फीते लगाने के स्थान पहले से किये गए छेद को बड़ा किया जाता है।  
  • विभिन्न कलर एवं डिजाईन प्रिंटिंग- अब इन चप्पलों को ज्यादा खूबसूरत एवं आकर्षक बनाने के लिए विभिन्न तरह के कलर एवं डिजाईन की प्रिंटिंग की जाती है इसमें ज्यादा खर्चा नहीं आता है। स्क्रीन प्रिंटिंग मशीन की मदद से हवाई चप्पल के ऊपर वाले हिस्से में डिजाईन बनाया जाता है जो ग्राहकों को लुभा सके प्रिंटिंग करने के बाद इन चप्पलों को कुछ देर सूखने के लिए रख देते हैं।  
  • फीते लगाना- अंतिम चरण में स्ट्रैप फिटिंग मशीन की सहायता से अब इन चप्पलों में फीते लगा दिए जाते हैं फीते रंग बिरंगे लगाए जाते हैं ताकि चप्पल देखने में खूबसूरत लगें।
  • दूध जैसा केमिकल- ये एक तरीके का केमिकल होता है जिसका रंग दूध जैसा होता है ये चप्पल में चमक पैदा करता है जब आपका चप्पल बनकर तैयार हो जाता है तब पैकिंग करने से पहले एक पुराना कपड़ा लेकर केमिकल में डुबोया जाता है इसके बाद हलके हाथ से चप्पल पर रगड़कर साफ कर दिया जाता है जिससे चप्पल में चमक आ जाती है और ग्राहक आकर्षित होता है।  

नहाने के साबुन बनाने का व्यवसाय शुरू कीजिये कमाइये लाखों।

पैकिंग

किसी भी प्रोडक्ट की पैकिंग ही सबसे पहले ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। इसलिए पैकिंग हमेशा ऐसी होनी चाहिए जिससे पहली नजर में ही ग्राहक आपके प्रोडक्ट को खरीदने के लिए लालायित हो जाए। चप्पल की पैकिंग के लिए छोटे-छोटे बॉक्स का प्रयोग किया जाता है तथा बॉक्स के ऊपर कार्टून्स या विभिन्न आकर्षक डिजाईन की प्रिंटिंग की जाती है। चप्पल को पोलीथीन में रखकर इन डिब्बों में पैक कर दिया जाता है फिर मार्केटिंग के लिए भेज दिया जाता है। 

मार्केटिंग

किसी भी प्रोडक्ट की मार्केटिंग जब तक सही ढंग से नहीं हो पाती है तब तक वह बिज़नस सफल नहीं हो सकता है चाहे वह बड़ा बिज़नस हो या छोटा बिज़नस। इसलिए आपको किसी भी बिज़नस को शुरू करने से पहले Marketing strategy पर विशेष ध्यान देना होगा। इसके लिए आपको अपने आस-पास के लोकल मार्केट में जाकर चप्पल की सभी छोटी-बड़ी दुकानों पर संपर्क करके उनको होलसेल रेट पर अपना माल सप्लाई करना होगा। इसके बाद मांग बढ़ने पर दूर-दूर के मार्केट्स में अपनी सप्लाई चेन बढ़ानी होगी जिससे ज्यादा से ज्यादा बिक्री हो सके।   

इनकम 

चप्पल व्यवसाय में लगभग दुगुना मुनाफा है यदि आप इसे होलसेल रेट पर ही बेंच देते हो तब भी आपको कुल लागत से लगभग डेढ़ गुना कीमत मिलने वाली है इस प्रकार यह बिज़नस करके आप अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हो। इस बिज़नस में सबसे बड़ी खूबी है की इसका माल कभी खराब नहीं होता है अर्थात माल के सड़ने घुलने का कोई जोखिम नहीं रहता है।  

निष्कर्ष 

मुझे आशा एवं पूर्ण विश्वास है की आपको slipper making business आईडिया बहुत जबर- दस्त एवं हेल्पफुल लगा होगा। यदि आप इस पोस्ट से थोड़ा भी लाभान्वित हुए हों तो प्लीज  कमेन्ट करके जरूर बताइयेगा और अपने दोस्तों को ज्यादा से ज्यादा शेयर करना मत भूलियेगा आपके द्वारा मिलने वाले रेस्पोंस से हमें बहुत अधिक प्रेरणा मिलती है जिससे आपके लिए नए-नए बिज़नस आइडियाज लाते रहते हैं धन्यवाद।

इसे पढना मत भूलिए –  2022 में कैसे शुरू करें फर्नीचर उद्योग ?

About Ved Prakash Yadav


2 thoughts on “Slipper Making Business in Hindi | 2022 में चप्पल बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें ?”

Leave a Comment

Your email address will not be published.