Top 10 Successful Indian Businessman || शीर्ष 10 सफल भारतीय व्यवसायी

Successful indian businessman

दोस्तों फर्श पर पड़ा कोई भी व्यक्ति कभी दुनिया की निगाहों में नजर नहीं आता है। हर व्यक्ति उगते सूरज को ही सलाम करना चाहता है और कहीं वह दोपहर के सूरज की तरह तप रहा हो तो सबकी आँखे चौंधिया देता है। ऐसी ही कामयाब हस्तियों से मैं आज आपको रूबरू कराने वाला हूँ। आज के इस पोस्ट में आपको Top 10 Successful Indian Businessman जिन्होंने फर्श से अर्श तक का सफ़र किया है, के बारे में जानकारी दूंगा।

हमारा भारत कृषि प्रधान देश कहा जाता है। यहाँ की आधी से ज्यादा आबादी कृषि पर ही निर्भर है परन्तु अब हमारा भारत उद्योग जगत में भी पीछे नहीं रहा है। यहाँ के बड़े बड़े उद्योगपति लोग बिज़नेस के क्षेत्र में नए नए आयाम हासिल कर रहे हैं। जिनका भारत के विकास दर में महत्वपूर्ण योगदान है तथा उनके द्वारा भारत सरकार को काफी ज्यादा करदान मिलता है जो हमारे बजट का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनता है।

आज हम Indian successful businessman story के बारे में बताएँगे जिसको पढ़ने के बाद आपके मन में भी कुछ कर गुजरने की प्रेरणा जागेगी और आप भी कुछ नया स्टार्टअप कर सकेंगे आइये जानते हैं वें सफल लोग कौन-कौन से हैं-

#Top 10 Successful Indian Businessman#

शीर्ष 10 सफल व्यक्तियों की सूची में मैंने सिर्फ भारतीय व्यवसायिओं को ही शामिल किया है हांलाकि इनके सिवाय कई अनगिनत भारतीय व्यवसायी हैं जिन्होंने अपनी सफलता का परचम लहराया है परन्तु हमने यहाँ कुछ चुनिन्दा लोगों को ही शामिल किया है जिन्होंने बिल्कुल छोटे स्तर से शुरुआत करके अपने मेहनत एवं लगन के बल पर आज इतनी ऊँचाई हासिल की है। आइये इन्ही Top 10 Successful Indian Businessman के बारे में पढ़ते हैं।

1. # धीरूभाई अंबानी #

Top 10 Successful Indian Businessman में पहला नाम धीरुभाई अंबानी जी का है।

धीरूभाई अंबानी(1932-2002) एक ऐसे भारतीय व्यवसायी हैं जिन्होंने बहुत छोटे स्तर पर अपने व्यवसाय की धार्मिक स्थानों आर परंपरागत नाश्तें की चीजें बेंचकर की थी धीरे-धीरे उनका व्यवसाय बढ़ता गया और उन्होंने अपने व्यवसाय का विस्तार टेलीकम्यूनिकेशन,विद्युत् उत्पादन,इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी और अन्य उपभोक्ता के उपयोग की वस्तुएं बनाने के क्षेत्र में किया।

आज उनके द्वारा स्थापित रिलायंस इंडस्ट्रीज भारत की सबसे बड़ी प्राइवेट कंपनी है उनके पुत्रों मुकेश अंबानी और अनिल अंबानी ने पिता की विरासत को आज बहुत अधिक ऊँचाई पर पहुँचा दिया है। आज मुकेश अंबानी भारत के सबसे धनी व्यक्तियों में प्रथम स्थान पर हैं फ़ोर्ब्स की सूची के अनुसार। ये No.1 Businessman in India के

2. # जहाँगीर रतनजी दादाभाई टाटा #

Top 10 Successful Indian Businessman में से एक प्रसिद्द उद्योगपति जहाँगीर रतनजी दादाभाई टाटा या जेआरडी टाटा(1904-1993) पेरिस में जन्मे थे। उनके पिता जमशेद जी टाटा  भारतीय मूल के एवं माता फ्रांसीसी मूल की थीं। जेआरडी टाटा ने यूरोप में वैमानिकी(एविएशन) का प्रशिक्षण लिया और बाद में भारत के पहले कामर्शियल एयरलाइन पायलट बनें टाटा ग्रुप कंपनी जो उनकी पारिवारिक कंपनी थी, में काम करते हुए उन्होंने टाटा एयरलाइन का निर्माण किया जो बाद में आधुनिक एयर इंडिया बनी।

आज के समय में टाटा ग्रुप की कई कंपनिया जैसे ऑटोमोबाइल्स वेंचर्स लिमिटेड, टाटा मोटर्स व इसके सिवाय बहुत सारे प्रोडक्ट्स टाटा ग्रुप्स के अंतर्गत बनते हैं टाटा कंपनी अंबानी बंधुओं के रिलायंस के बाद भारत की  दूसरी सबसे बड़ी प्राइवेट कंपनी है। ये भी एक Indian successful businessman हैं।

3. # गौतम अडानी #

Top 10 Successful Indian Businessman में एक प्रमुख नाम गौतम अदानी जी का है।

गौतम अदानी आज के भारत में तेजी से उभरता हुआ एक चेहरा हैं। गौतम अदानी एक भारतीय उद्योगपति हैं जो अडानी ग्रुप के फाउंडर एवं चेयरमैन हैं। अडानी ग्रुप जो अहमदाबाद हेड क्वार्टर से संचालित होता है जिसमे बंदरगाह विकास, कोयला व्यापार, कोयला खनन, तेल एवं गैस खोज बिजली उत्पादन एवं गैस वितरण आदि का व्यापार फैला हुआ है। फार्च्यून बेसन, फार्च्यून तेल का नाम तो आपने सुना ही होगा फार्च्यून कंपनी के शेयर में अदानी जी की बड़ी भागेदारी है। 

गौतम अदानी का जन्म 1962 में अहमदाबाद गुजरात में हुआ था। इनके पिताजी का कोई बहुत बड़ा  व्यावसायिक विरासत नहीं था। यह मुकाम तो इन्होने अपने दम पर हासिल किया है। गौतम अदानी भारत के गिने चुने ऐसे लोगों में से एक हैं जिन्होंने फर्श से उठकर अर्श तक का सफ़र तय किया है और भारत के अरबपतियों में शामिल हुए हैं। ये एक ऐसे उद्योगपति हैं जो india’s successful businessman की category में आते हैं।

4. # घनश्याम दास बिरला #

Successful indian businessman
Ghanshyam das birla

Top 10 Successful Indian Businessman में से एक महत्वपूर्ण नाम बी.के.के.एम.B.K.K.M.)बिड़लासमूह के संस्थापक भारत के प्रसिद्द उद्योगपतियों में शुमार श्री घनश्याम दास बिड़ला का जन्म 10 अप्रैल 1894 को एक मारवाड़ी परिवार में पिलानी नामक जगह पर राजस्थान में हुआ था उनके पिता बलदेव दास थे जिनका अफीम का व्यवसाय था।

परन्तु घनश्याम दास बिड़ला ने व्यवसाय की बागडोर संभालते ही इस व्यवसाय को छोड़ वें निर्माण क्षेत्र में अपने व्यवसाय को बढ़ाने में लग गये और वें राजस्थान से कोलकाता चले गये वहाँ जाकर उन्होंने एक जूट कंपनी खोली।

 1940 के दशक में उन्होंने ‘हिन्दुस्तान मोटर्स’ की स्थापना की और कार उद्योग में कदम रखा बाद में चाय टेक्सटाइल सीमेंट रसायन स्टील पाइप जैसे क्षेत्रो में अपने व्यवसाय का विस्तार किया।

घनश्याम दास बिड़ला जी ने 1943 में कोलकाता में “यूनाइटेड कोमेर्सिअल बैंक” की स्थापना भी की, जो अब बदलकर “यूको बैंक” हो गया है।   

5. # बृजमोहन लाल मुंजाल #

Top 10 Successful Indian Businessman में एक बहुत ही प्रसिद्द उद्योगपति श्री बृजमोहन लाल मुंजाल जिनकी कोई व्यावसायिक पृष्ठिभूमि नहीं थी, का नाम लेना अति आवश्यक है।

बृजमोहन लाल मुंजाल का जन्म अविभाजित भारत के कमालिया में हुआ था जो अब पाकिस्तान में है। आजादी से कुछ समय पहले मुंजाल जी पूरे परिवार समेत अमृतसर चले आये थे। यहाँ इन्होने साइकिल के कल पुर्जें बेचने का कारोबार शुरू किया। बाद में वह लुधिआना चले गये जहाँ साईकिल पार्ट्स बेंचने लगे धीरे-धीरे पूँजी बढ़ने पर उन्होंने 1954 में हीरो साइकिल लिमिटेड की स्थापना की तथा पार्ट्स बेंचने के बजाय साईकिल के पार्ट्स स्वयं बनाने लगे। 

1956 में इन्हें साइकिल बनाने का लाइसेंस भी सरकार से प्राप्त हो गया जहाँ से इनकी दुनिया ही बदल गयी। साइकिल बेंचकर जो पूँजी एकत्रित की उससे इन्होने हीरो नाम की ही एक टू व्हीलर कंपनी खोली 1984 में इन्हें जापान की मशहूर कंपनी होंडा का साथ मिल गया तब से इन्होने पीछे मुड़कर नहीं देखा और दिन रात आगे ही बढ़ते गये।

आज इनकी टू व्हीलर की मशहूर कंपनी हीरो मोटोकार्प को पूरी दुनिया जानती है। जिसमे कई रेंज की गाड़ियाँ जैसे पैशन प्रो, एच ऍफ़ डीलक्स, सुपर स्प्लेंडर, स्प्लेंडर प्लस आदि बनती हैं।

6. # शिव नाडर #

अगर हम एक और Successful Businessman names की बात करें तो आपने शिव नाडर का नाम सुना होगा। शिव नाडर का जन्म 1945 में तामिलनाडू के तिरुथुकड़ी जिले के मूलुइपोझी गाँव में हुआ था। इनके पिता श्री शिव सुब्रमणय नाडर थे। नाडर ने टाउन हायर सेकेंडरी स्कूल कुम्बकोणम में पढ़ाई की तथा पीएसजी कॉलेज से इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में डिग्री प्राप्त किया।

इसके बाद 1968 तक शिव नाडर तामिलनाडू की डीसीएम कंपनी में काम करते रहे उन्होंने अपने साथ के छः लोगों को प्रेरणा दी क्यों न अपनी एक कंपनी खोली जाय जो ऑफिस इक्विपमेंट बनाए इसी के फलस्वरूप शिव नाडर ने अगस्त 1976 में एक गैरेज में उन्होंने एचसीएल इंटर प्राइजेज की स्थापना की। 

बाद में 1982 आते-आते इन्होने कंप्यूटर भी बनाना सीख लिया अब ये खुद एचसीएल नाम के कंप्यूटर की  मैनुफैक्चरिंग  करने लगे जो विश्वविख्यात है शिव नाडर आज के समय में भारत के एक प्रतिष्ठित आईटी उद्योगपतियों में शुमार हैं ये HCL कंप्यूटर और शिव नाडर फाउंडेशन के संस्थापक और अध्यक्ष हैं।

7. # दिलीप सांघवी #

Top 10 Successful Indian Businessman में से एक अति महत्वपूर्ण नाम फार्मा सेक्टर किंग श्री दिलीप सांघवी जी का है जिनका जन्म 1 अक्टूबर 1955 को  अमरेली  गुजरात  में एक  जैन परिवार  में हुआ था  उन्होंने  कोलकाता  यूनिवर्सिटी से वाणिज्य  स्नातक  की डिग्री प्राप्त  की। 

इनके पिता जी दवाई के डीलर थे अतएव पढ़ाई पूरी करने के बाद  इन्होने अपने पिताजी  के काम  में सहयोग देना शुरू किया कुछ समय बाद इन्होने अपने पिता जी से 10000 रुपये की रकम  लेकर वर्ष 1983 में मुंबई  शहर आ गये। यहाँ पर इन्होंने  कुछ दिनों तक एक  मनोचिकित्सक  की  दवाई  का मार्केटिंग किया उसके बाद वह गुजरात के वापी शहर चले आये। 

यहीं से इनके जिन्दगी में बदलाव आना शुरू हो गया  यहाँ इन्होने दवा बनाने  की एक छोटी सी फैक्ट्री खोली इस दवा कंपनी का नाम उन्होंने SUN PHARMACEUTICAL रखा यही कंपनी आज के समय में SUN PHARMA  के नाम से मशहूर है। 

इसके सिवाय दिलीप सांघवी जी ने अमेरिकन दवा कंपनी ‘कैरको फार्मा’ इजराइल  की दवा कंपनी  ‘टैरो फार्मा’ तथा मशहूर दवा कंपनी ‘रैनबैक्सी’ का अधिग्रहण कर लिया जिसके फलस्वरूप वें  फार्मा  सेक्टर  किंग कहलाने लगे। आज  के समय में सांघवी जी का दूर दूर तक  कोई भी कंपनी दवा के क्षेत्र में  मुकाबला करने वाला नहीं है। 

8. # लक्ष्मी निवास मित्तल #

Successful indian businessman
Laxmi nivas mittal

Top 10 Successful Indian Businessman में से एक प्रसिद्द नाम लक्ष्मीनिवास मित्तल जी का है। जिनका जन्म 2 सितम्बर 1950 को राजस्थान के चुरू जिले के राजगढ़ तहसील में हुआ था इनके पिता का नाम मोहन लाल मित्तल था जिनका निप्पन डेनेरो इस्पात का व्यवसाय था।

भारत सरकार द्वारा स्टील के उत्पादन पर नियंत्रण के वजह से 26 वर्षीय लक्ष्मीनिवास मित्तल ने सन 1976 में अपना पहला स्टील कारखाना ‘पीटी इस्पात इंडो’ इंडोनेशिया में स्थापित किया था वर्तमान में लक्ष्मीनिवास मित्तल ‘मित्तल आर्सेलर स्टील कंपनी’ के सीईओ एवं चेयरमैन हैं। इसके अलावा वह EADS, ICICI बैंक और इन्वेस्टमेंट बैंकिंग कंपनी गोल्डमन साक्स के गैर कार्यकारी निदेशक भी हैं वें फ़ोर्ब्स की सूची में शामिल भारतीय अरबपतियों में से एक हैं।

9. # आनंद माहिन्द्रा #

Successful Businessman in India List में से एक बहुत ही फेमस नाम श्री आनंद माहिन्द्रा जी का आता है जिनका जन्म 1 मई 1955 में मुंबई महाराष्ट्र में एक प्रसिद्ध एवं  संपन्न व्यवसायी परिवार में हुआ था। इनके पिता का नाम हरीश माहिन्द्रा और माँ का नाम इंदिरा माहिन्द्रा था। इन्होने 1981 में अपनी उच्चतम शिक्षा एमबीए हॉवर्ड बिज़नस स्कूल बोस्टन से  पूर्ण की शिक्षा पूर्ण करने के बाद वें भारत लौट आये।

और उन्होंने माहिन्द्रा यूजाइन स्टील कंपनी (MUSCO) में  वित्त निदेशक  के  कार्यकारी  सहायक के रूप में  अपना  पहला  कार्यभार  ग्रहण  किया 1989 में इन्होने माहिन्द्रा  एंड  माहिन्द्रा  का  विस्तार  करते  हुए  रियल  स्टेट  डवलपमेंट  और हास्पिटैलिटी से सम्बंधित  इकाई के अध्यक्ष बने। 

इनकी पहचान 2002 में  सबसे  ज्यादा  बढ़ी  जब  माहिन्द्रा  एंड माहिन्द्रा  समूह ने  स्वदेशी  तकनीक से विकसित कार (SUB) के नए मॉडल “स्कार्पियो” को  लांच  किया जिससे  कंपनी  को वैश्विक स्तर पर पहचान मिली इसके अलावा माहिन्द्रा के ट्रैक्टर, बोलेरो,एक्सयूवी 500 आदि ने भी माहिन्द्रा को बहुत अधिक ऊंचाइयों पर पहुंचा दिया।

इनके फ़ार्म इक्विपमेंट सेक्टर को जापान क्वालिटी मेडल प्राप्त हुआ है यह सम्मान प्राप्त करने वाली विश्व की एकमात्र ट्रैक्टर कंपनी है।  

10. # अजीम प्रेमजी # 

Top 10 Successful Indian Businessman में से एक नाम भारत के बिल गेट्स कहे जाने वाले अजीम प्रेमजी का जन्म 24 जुलाई 1945 को  मुंबई के एक शिया मुस्लिम परिवार में हुआ था उनके पिता मुहम्मद हाशिम प्रेमजी एक प्रसिद्द  व्यवसायी थे और राइस किंग ऑफ़ बर्मा के नाम से जाने जाते थे। 

इनके पिताजी ने एक कंपनी महाराष्ट्र के जलगाँव जिले में वेस्टर्न इंडियन वेजिटेबल प्रोडक्ट्स की स्थापना की थी अजीम प्रेमजी अपनी उच्च शिक्षा हेतु अमेरिका के स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय गये परन्तु बीच में पिता की मृत्यु हो जाने के कारण ये उच्च शिक्षा ग्रहण नहीं कर पाए थे। 

भारत वापस आकर इन्होने कंपनी का कारोबार संभाला  और इसका विस्तार दूसरे क्षेत्रो में किया  उस समय इन्होने सूचना तकनीकी के महत्व और अवसर को पहचाना  और कंपनी  का नाम  बदलकर विप्रो कर दिया और उस समय कंप्यूटर के  उभरते हुए क्षेत्र का बेहतर उठाया और साबुन के स्थान पर कंप्यूटर बनाना शुरू किया और एक प्रतिष्ठित कंपनी बनकर उभरी है आज केसमय में विप्रो आईटी सेक्टर की अग्रणी कंपनियों में से एक है। 

निष्कर्ष 

दोस्तों आप ने पढ़ा कि Top 10 Successful Indian Businessman कैसे अपने  मेहनत  एवं लगन के बलबूते आज इस मुकाम तक पहुंचे हैं वें जन्म से ही अरबपति नहीं थे वें अपनी मेहनत से अरबपति बने हैं। 

यदि आप इनकी जिन्दगी से प्रेरणा लेकर कुछ शुरुआत करते हैं और दृढ़ इच्छाशक्ति से अपने कार्य में लगे रहते हैं तो वह दिन दूर नहीं जब आपका भी नाम Top 10 Successful Indian Businessman की लिस्ट में शामिल होगा धन्यवाद।

About Ved Prakash Yadav


Leave a Comment

Your email address will not be published.