Toothpaste Manufacturing Business in Hindi || दन्त मंजन बनाने का व्यवसाय

toothpaste manufacturing business

Toothpaste Manufacturing Business एक ऐसा Products है जिसका उपयोग लगभग हर घर में छोटे बच्चों से लेकर बड़े बूढ़े तक करते हैं चाहे वह गरीब हो या अमीर।आजकल के भागम भाग जिन्दगी में किसी के पास इतनी फुर्सत कहाँ है की वह बाग़ में से जाकर नीम, सेहुड की दातून तोड़ कर लाये और अपने दांतों की सफाई करे। सब लोग तुरंत टूथ पेस्ट और ब्रश निकालते हैं और दांतों की सफाई में जुट जाते हैं। टूथ पेस्ट की मांग लगातार बाज़ार में बनी रहती है। आपने भी देखा होगा बाज़ार में कोलगेट, डाबर लाल दन्त मंजन, पेप्सोडेंट , पतंजलि का दन्त कान्ति मंजन, क्लोजअप, एग्रो दन्त मंजन आदि ब्रांड से टूथ पेस्ट आते हैं और सब कमोवेश बिकता रहता है किसी ग्राहक को कोलगेट पसंद है तो किसी को क्लोज अप सभी कस्टमर्स की अलग अलग पसंद होती है। 

परन्तु ऐसा नहीं है कि किसी ब्रांड की बिक्री मार्केट्स में बंद हो गयी है। सभी ब्रांड्स की बिक्री कमो- वेश होती रहती है अलग-अलग क्षेत्रो में अलग अलग ब्रांड्स की मांग रहती है।इस उद्योग में अन्य कंपनियों से कम्पटीशन बहुत ज्यादा है परन्तु आपके प्रोडक्ट्स की बिक्री होगी, बशर्ते आपकी  क्वालिटी सही हो ऐसे में आप भी इस बिज़नेस को स्टार्ट कर सकते है।

दोस्तों आज के इस पोस्ट में मैं आप लोगों को Toothpaste Manufacturing Business के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देने वाला हूँ जिसे पढ़कर आप भी आसानी से अपना बिज़नेस स्टार्ट कर सकते हो।

इसे भी पढ़ें- एलईडी बल्ब बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें ?

टूथ पेस्ट बिज़नेस में संभावनाएं ?

टूथपेस्ट का अर्थ साधारण बोलचाल की भाषा में दंतमंजन से लगाया जाता है। इसका उपयोग  दांतों की सफाई करने के लिए किया जाता है, जनसँख्या के आधार पर भारत विश्व में दूसरा सबसे बड़ा देश है इसलिए यहाँ कस्टमर की कभी कमी नहीं रहती है भारत एक बहुत बड़ा मार्केट है यहाँ हमेशा हर प्रोडक्ट्स की मांग बनी रहती है। 

जहाँ तक Toothpaste की बिक्री का सवाल है यह वर्तमान में चाहे ग्रामीण इलाका हो या शहरी हर घर परिवार के सदस्यों के दांतों की दैनिक साफ-सफाई के काम आने वाला मुख्य पदार्थ है  इसलिए लोगों की आवश्यकता को देखते हुए Toothpaste Manufacturing Business कभी  बंद न होने वाला बिज़नस है। यह बिज़नस सदा के लिए चलता रहेगा इसमें आगे बढ़ने की अपार सम्भावनाये हैं। 

जगह का चुनाव (LOCATION)

किसी भी फैक्ट्री या plant को सेटअप करने हेतु हमेशा ऐसे जगह का चुनाव किया जाता है, जहाँ यातायात आवागमन की Proper सुविधा उपलब्ध हो तथा गाँव या शहर से थोड़ा हटकर  लेकिन बहुत एकांत जगह भी न हो ताकि मशीन के चलने के कारण होने वाले शोरगुल से लोगों कोकोई परेशानी न हो।साथ ही उस जगह पर हैवी विद्युत् कनेक्शन उपलब्ध हो जिससे सभी मशीनें चल सकें, साथ में पर्याप्त जगह भी उपलब्ध होनी चाहिए जहाँ सभी मशीने एवं स्टोरेज गोदाम आदि सही से स्थापित किये जा सकें। 

आवश्यक कच्चा माल (Raw Material for Toothpaste Business )

Toothpaste Manufacturing Business में निम्नलिखित कच्चे माल का प्रयोग किया जाता है इन सारी चीजों को एक निश्चित मात्रा में मिलाया जाता है जिसके लिए विभिन्न मशीनों की सहायता ली जाती है। 

  • calcium carbonate
  • magnesium carbonate
  • soap powder
  • precipitated chalk
  • glycerine
  • sugar
  • honey
  • distilled water
  • menthol
  • saccharine
  • gum tragacanth
  • perfume
  • colors
  • preservatives
toothpaste manufacturing business
toothpaste manufacturing business

मशीनरी एवं उपकरण (Toothpaste Making Machine)

व्यावसायिक स्तर पर Toothpaste Manufacturing Plant हेतु निम्नलिखित मशीनों की आवश्यकता पड़ती है- 

  • Binder Mixer, planetary mixer, liquid mixer इन तीनो मिक्सर मशीनों से रॉ मटेरियल अच्छी तरह से मिक्स किया जाता है। 
  • triple roller mill इस मशीन से मिश्रण को खूब बारीक, महीन पीसा जाता है। 
  • Toothpaste filling machine इस मशीन से पेस्ट को ट्यूब में बराबर मात्रा में भरा जाता है। 
  • tube sealing machine ट्यूब में पेस्ट भर जाने के बाद उसे इस मशीन से सील किया जाता है। 
  • storage tank पेस्ट को इस टैंक में रखा जाता है ताकि उसमे से हवा के बुलबुले निकल सके। 
  • packing machine इस मशीन से टूथ पेस्ट को पैकेट में पैक किया जाता है। 

आप इन सभी मशीनों का रेट www.indiamart.com पर चेक करके ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं।  

कितनी पूँजी लगेगी ? (Toothpaste Manufacturing Cost)

टूथपेस्ट बनाने की फैक्ट्री लगाने के लिए आपको कम से कम 4 से 5 लाख रुपये का निवेश मशीनरी एवं विभिन्न टूल्स खरीदने में करना पड़ेगा। इसके बाद रॉ मैटेरियल्स को मंगाने हेतु आपको अलग से इन्वेस्ट करना होगा यह आपके ऊपर निर्भर है कि आप बिज़नस की शुरुआत कितने रुपये के रॉ मैटेरियल्स से करना चाहते हैं। beginners के लिए उचित सलाह तो यही होता है की वें थोड़े माल से ही अपने बिज़नस की शुरुआत करें और जैसे जैसे उनका बिज़नस बढ़ता जाय उसके अनुसार और अधिक पूँजी निवेश करते जाएँ।  

लाइसेंस (LICENSE)

चूंकि टूथपेस्ट लोगों के मुंह एवं दांतों के स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ प्रोडक्ट्स है। इसका सीधा असर आपके स्वास्थ्य पर पड़ सकता है लेकिन यह एक कॉस्मेटिक आइटम में आता है इसलिए इसका रजिस्ट्रेशन Drugs and Cosmetic Act 1982 के अंतर्गत कराना पड़ता है। इसके अलावा जीएसटी रजिस्ट्रेशन कराना होगा तथा सम्बंधित राज्य प्रदूषण बोर्ड से NOC लेटर जारी करवाना होगा ये सब कुछ लीगल चीजें हैं जिन्हें पूरा करने के बाद ही आप अपना Toothpaste बनाने का बिज़नेस start कर सकते हो। 

टूथ पेस्ट बनाने का प्रोसेस (Toothpaste Manufacturing Process)

Toothpaste बनाने में निम्न Process अपनाई जाती है-

  • मिक्सर मशीन में मिक्स करना- सभी रॉ मैटेरियल्स को निर्धारित मात्रा में मिक्सर मशीन में  डाला जाता है ताकि अच्छे से मिल जाय इसके बाद इसे बाहर निकाल लिया जाता है। 
  • ग्लिसरीन और सोप पाउडर मिलाना- अब मिश्रण में ग्लिसरीन या शरबत (सोर्बिटोल) में थोड़ा सा  पानी मिलाकर मिक्सर मशीन में लगे  बर्तन में रख देते  हैं इसके बाद इसमें सभी घटकों को (सोप पाउडर को छोड़कर) इस पेस्ट में मिलाया जाता है और अंत में सोप पाउडर को भी मिला दिया जाता है।  
  • रोलर मशीन में पीसना- फिर इस पेस्ट को मिक्सर मशीन से निकालकर रोलर मशीन में डाला जाता है जिसमे यह खूब  बारीक पीसा जाता है इसको तब तक पीसते हैं जब तक यह पेस्ट एकदम मुलायम एवं चिकना न हो जाय। 
  • स्टोरेज टैंक में 24 से 48 घंटे तक रखना- इसके बाद इस पेस्ट को एक दो दिन तक स्टोरेज टैंक में रखा जाता है ताकि इसमें से हवा के बुलबुले पूरी तरह से निकल जायं। 

इस तरह से उपरोक्त प्रोसेस के उपरांत टूथपेस्ट का औद्योगिक स्तर पर उत्पादन किया जाता है। 

सीलिंग एवं पैकिंग 

पूरी तरह से तैयार पेस्ट को अब प्लास्टिक के छोटे छोटे ट्यूब में फिलिंग मशीन से फिल करके सीलिंग मशीन से सील कर दिया जाता है फिर इन्हें पैकेट में रख दिया जाता है। अब ये पैकेट market में बिक्री हेतु तैयार हो जाते है। जिन ट्यूब्स में पेस्ट फिलिंग की जाती है उनकी क्वालिटी अच्छी होनी चाहिए ताकि सीलिंग जल्दी फटे न। इन प्लास्टिक ट्यूब्स को आप रेडीमेड रूप में मंगा सकते हैं इन पर अपने कंपनी का logo भी छपवा सकते हैं।  

toothpaste manufacturing business
toothpaste manufacturing business

विशेष सावधानी 

आपको टूथपेस्ट बनाने में कुछ विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है क्योंकि यह लोगों के मुंह एवं दांतों के स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ प्रोडक्ट है इसलिए आपको किसी अच्छे डेंटल एक्सपर्ट  की बीच-बीच में सलाह जरूर लेते रहना चाहिए एवं उसके सुझाव के अनुसार ही टूथपेस्ट का उत्पादन करना चाहिए यदि हो सके तो एक मान्यता प्राप्त(डेंटल साइंस में डिग्रीधारी) डेंटल डॉक्टर को विधिक तौर पर अपने एडवाईजर स्टाफ के रूप में रख लेना चाहिए। 

विज्ञापन और मार्केटिंग (Advertisement & Marketing for Toothpaste Business) 

यह एक ऐसा प्रोडक्ट्स है जिसका विज्ञापन कराना अनिवार्य है क्योंकि जब तक आपके प्रोडक्ट्स के बारें में लोग जानेंगे नहीं तब तक उसका इस्तेमाल कैसे करेंगे? इसलिए अपने टूथपेस्ट ब्रांड का विज्ञापन सभी समाचार पत्रों एवं पत्रिकाओं एवं टीवी पर जरूर दें तथा जगह जगह पर पोस्टर बैनर लगवाएं एवं अपने टूथपेस्ट की विशेष खूबियों को जरूर दर्शायें।

अपने टूथपेस्ट के सेलिंग को बढाने के लिए आपको पहले अपने आसपास के लोकल मार्केट्स में बड़े किराना दूकान के मालिको से संपर्क करके उनको होलसेल रेट पर अपना प्रोडक्ट देना होगा और उनको अन्य टूथपेस्ट बेंचकर मिलने वाले लाभ की तुलना में आप ज्यादा लाभ देने का प्रयास करो जिससे वें आपके प्रोडक्ट को बेंचने में ज्यादा रूचि दिखाएँ जिससे आपको भी ज्यादा लाभ हो सके। इसके सिवाय आप अपने टूथपेस्ट के साथ ईनाम के तौर पर टूथब्रश रखकर कुछ दिन तक बिक्री कर सकते हैं जिससे लोग आपके टूथ पेस्ट को ज्यादा खरीदेंगे और इस्तेमाल करेंगे और क्वालिटी अच्छी होने के कारण पहली बार में ही आपके रेगुलर कस्टमर बन जायेंगे। 

इस प्रकार से आप अपने टूथपेस्ट की बिक्री बढ़ा सकते हैं और अधिक मुनाफा कमा सकते हैं। 

अवश्य पढ़ें- एक सफल बिजनेसमैन बनने के लिए क्या करें ?    

इनकम (Profit Margin in Toothpaste Manufacturing Business)

आप को किसी भी बिज़नस के शुरूआती दिनों में ज्यादा प्रॉफिट की नहीं बल्कि अपने प्रोडक्ट की क्वालिटी और पॉपुलैरिटी पर ध्यान देना चाहिए यदि आपका प्रोडक्ट एक बार मार्केट में अपना सिक्का जमा लेता है तो फिर आपको प्रॉफिट का कोई इश्यु ही नहीं रहेगा और आपका बिज़नस  दिन दूना रात चौगुना की गति से ग्रो करेगा जिसमे प्रॉफिट की कोई सीमा ही नहीं रह जायेगी।    

निष्कर्ष 

प्रिय दोस्तों हमें आशा एवं पूर्ण विश्वास है कि आपको यह पोस्ट Toothpaste Manufacturing Business कैसे स्टार्ट करें, पढ़कर अपना बिज़नस स्टार्ट करने की प्रेरणा मिली होगी तो आप भी अपना बिज़नस शुरू कीजिये और किसी का नौकर बनने के बजाय खुद एक छोटा मोटा मालिक बनिए और अपना जीवन सफल बनाइये। यदि आपको यह पोस्ट थोड़ा सा भी हेल्पफुल लगा हो तो मुझे कमेन्ट करें और अपने दोस्तों को शेयर करना बिलकुल न भूलें धन्यवाद।  

इसे भी पढ़ें- 25 New Business Ideas in Hindi 2021 with Low Investment in India

About Ved Prakash Yadav


Leave a Comment

Your email address will not be published.